Press "Enter" to skip to content

5 Sept: world samosa diwas | विश्व समोसा दिवस

world samosa diwas: आपने हमेशा समोसे में प्याज, मटर, आलू, पनीर जैसे कई तली हुई सब्जियां देखी होंगी. या कई अन्य ठिकानों पर भी इसमें बहुत अन्य चीजें भरी जाती है. देखा जाए तो यह अमेरिका में बहुत तेजी से लोकप्रिय हो रहा है. और विश्व समोसा दिवस आपको इस समोसे का स्वाद चखने के लिए प्रोत्साहित करता है.

यदि आपके पास में कोई समोसा अभी नहीं है. तो आप इसे कहीं से भी बाहर से ला सकते हैं. इसमें कोई फर्क नहीं पड़ता है. इसे छोटे-छोटे पॉकेट में बने समोसे के बारे में अधिक जानकारी ले. और इसके इतिहास के बारे में जानिए.

world samosa diwas : some interesting fun facts about samosa 

आपको पता ही होगा कि समोसा वैसे तो पूरे दक्षिण एशिया में संबंधित सबसे पसंदीदा के रूप में होता है. अधिकांश व्यक्तियों के रोज के आहार का भी हिस्सा होता है. हालांकि इसके इतिहास में इसे पुरानी फारसी संस्कृति के साथ भी समोसा जोड़ा जाता है. 

समोसे बहुत ही स्वादिष्ट होते हैं. और इनको देख कर ही किसी के भी मुंह में पानी आ जाता है. आपको पता है कि समोसा एक त्रिकोणीय आकार का व्यंजन होता है. जिसे विभिन्न सामग्रियों के साथ भरा जाता है. आमतौर पर इसे तेल में तल आ जाता है. और साथ ही गर्म और मिश्रित आचार या फिर चटनी के साथ खाया जाता है.

दक्षिण एशिया में अधिकांश लोगों का एक प्रसिद्ध स्नेक बनकर उभरा है. अधिकांश मिठाई निर्माता और साथ ही सड़क विक्रेता भी अपने रोजी रोटी कमाने के लिए समोसे बेचते हैं.

तो आइए ऐसे उत्कृष्ट और स्वादिष्ट व्यंजन समोसा के बारे में कुछ मजेदार तथ्य जाने.
1.   लोगों की धारणाओं के बावजूद भी एक समोसे में 300 कैलोरी से कम होती है. और आमतौर पर  अगर इसे सभी सामग्रियों के साथ ठीक से पकाया जाए, तो ये स्वस्थ भोजन का विकल्प हो सकता है.

2.   समोसा दुनियाभर में खाई जाने वाली सबसे आम होता है. साथ ही इसे भौगोलिक क्षेत्र की अलग-अलग संस्कृतियों में खाया जाता है. जैसे कि तुर्क, फारसी, मध्य पूर्वी जनजाति या फिर उत्तरी हिमालय जनजाति वगैरा.

3.   समोसा अन्य लोकप्रिय भारतीय व्यंजनों की तरह ही बहुत अच्छी तरह के अलग-अलग व्यंजनों में बनाया जा सकता है. जैसे कि समोसा चाट, समोसा छोले, समोसा पाव आदि.

4.   समोसे का आकार पिरामिड जैसा ही दिखता है. वैसे आपको अगर पता नहीं है, तो आपको बता दें कि समोसा यह शब्द मूल रूप से मध्यपूर्व के पिरामिड के नाम पर ही रखा गया था.

5.    13 वीं शताब्दी में समोसे बड़ी-बड़ी रॉयल फैमिली के द्वारा ही खाये जाते थे. भारत में महान राजकुमार और रईस आमतौर पर समोसे की दावत का हिस्सा होते थे. साथ ही अरब और मध्य पूर्व देशों में भी बड़े-बड़े राजाओं और राजकुमारों द्वारा ही इसे खाया जाता था.

world samosa diwas ka itihas

विश्व समोसा दिवस का इतिहास बहुत पुराना है. माना जाता है कि 10 वीं शताब्दी से पहले मध्य पूर्व में समोसा की उत्पत्ति कहीं ना कहीं हुई है. लगभग 13वीं 14वीं शताब्दी के दौरान व्यापारियों के द्वारा समोसे को भारत में लाया गया था. और भारत में यह बहुत ही जल्दी अविश्वसनीय रूप से लोकप्रिय हो गया था.

आज भी लगभग सभी घरों में, फैंसी रेस्तरां में और जहां तक की सड़क के किनारे विक्रेताओं के पास भी समोसा मिल ही जाता है. यहां किनारे विक्रेताओं के पास वनस्पति तेल में तले हुए बिकते हैं. उनका खोल गेहूं या मैदा के आटे का उपयोग करते हुए तैयार किया जाता है. और फिर उनमें पारंपरिक तरीके से मसले हुए आलू, प्याज, हरी मटर, और बाकी सब्जियों के साथ क्षेत्रीय मसाले भी भर दिए जाते हैं.

इसमें और परफेक्ट तरीके से स्वाद लाने के लिए इसमें पुदीना, धनिया और इमली भी मिलाई जा सकती है. और तब इसका स्वाद चखने लायक होता है. बच्चों से लेकर बड़ों तक हर कोई समोसे के दीवाने होते हैं. दिलचस्प बात तो यह होती है यह आप भारत आते ही इसके बजाय आप को मुख्य सामग्री सब्जी ही दिखाई पड़ेगी. यदि आप स्थानीय लोगों के मसाले के रूप में पूर्व पंजाब में भी आनंद ले सकते हैं. बेशक आप भारत में कहीं भी घूमने तक समोसे का आनंद अलग अलग तरीके से ही आता है.

world samosa diwas kaise manaye

विश्व समोसा दिवस स्वादिष्ट तले हुए खाद्य पदार्थों को शामिल करने के लिए ही बनाया गया है. और इसे मनाने के लिए आपको एक बहुत ही स्वादिष्ट तरीका है. और वह दूसरा तीसरा कोई नहीं बस स्वादिष्ट समोसे चखकर इसका स्वाद उठाइए. अगर आप इन्हें घर पर नहीं बना सकते, तो आप कहीं भी बाजार की चौक से इसे खरीद सकते हैं.

और वहीं पर किसी अच्छी चटनी के साथ या फिर किसी सॉस के साथ इसका अच्छी तरह से आनंद ले सकते हैं. अगर आप कहीं घूमने गए तो वहां पर इनका गरम गरम स्वाद आपको चखने पर मजबुर ही कर देगा. साथ ही आप इसके सीजनिंग को विशिष्ट रूप से समझ सकते हैं. और सोच सकते हैं कि समोसा किसी भी भोजन के साथ जोड़ने के लिए एकदम सही होता है. चाहे आप इसे गर्म और मसालेदार छोले मधुर किसी भी तरीके से सर्व करें. 

विश्व समोसा दिवस अपने स्वादिष्ट सौदों के लिए ही पहचाना जाता है. आप इन्हें अपने दोस्तों एवं परिवार के साथ भी बांट कर खा सकते हैं. ताकि इनके खाने का आनंद आप दुगना कर सको.

हमारा  विश्व समोसा दिवस पर लिखा हुआ लेख अगर आपको पसंद आया हो और समोसे खाने के लिए आपकी जीभ ललचा गयी हो, तो निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमें जरूर बताएं.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *