Press "Enter" to skip to content

22 Sept: world rhino day | विश्व राइनो दिवस dinvishesh

world rhino day :  दोस्तों आज 22 सितंबर के दिन world rhino day |  विश्व राइनो दिवस मनाने जा रहे हैं. शायद आपको राइनो तो जरूर पता होगा है ना? इसी राइनो को हम गैंडा भी कह सकते हैं. दुनिया का कोई भी बच्चा राइनो को तुरंत पहचान सकता है.

इसकी भारी भूरे रंग की त्वचा और एक सींग या फिर दो सींग के वजह से यह शानदार जानवर अपने आप में ही अलग होता है. हालांकि देखा जाए तो यह जंगल में बहुत ही जल्दी से लुप्तप्राय होने की कगार पर है. और अगर कुछ नहीं किया गया तो यह जल्दी से विलुप्त होना तय ही है.

तो इसी वजह से हमें विश्व राइनो दिवस इस दिवस पर इस बलशाली प्राणी के बारे में जानकारी लेना बहुत आवश्यक है. साथ ही लोगों में इस शानदार बनाने की रक्षा में मदद के लिए जागरूकता बढ़ाना भी इस दिवस का मुख्य उद्देश्य है. तो आइए हम और आप मिलकर गेंडे की प्रजाति को बचाने के लिए प्रयास करें और विश्व राइनो दिवस को मनाएं.

world rhino day ka itihas  | विश्व राइनो दिवस का इतिहास

दोस्तों, विश्व राइनो दिवस पर हम आपको यह बात बताना चाहते हैं कि 2010 में ही यह स्पष्ट किया गया था कि दुनिया भर में गैंडे की दुर्दशा के लिए इंसान ही जिम्मेदार है. ज्यादातर लोगों को तो अब भी यही बात पता नहीं है कि इस इतने बड़े और शानदार जानवर की प्रजाति वाले कितने ही गेंडे विलुप्त होने के करीब आए हैं.

स्थिति तो इतनी गंभीर है कि उसी समय दुनिया में लगभग 30,000 से भी कम गेंडे जीवित थे. इसी वजह से WWF अर्थात  World Wide Fund for Nature,  दक्षिण अफ्रीका ने दुनिया में बचे हुए गेंड़ों की संख्या को बचाने के प्रयास में ही इस विश्व राइनो दिवस की घोषणा की थी.

इसी वजह से यह एक बहुत ही अभूतपूर्व सफलता बन गई है. और हम आज दिवस के माध्यम से लोगों तक गैंडो के बारे में हकीकत रख पाते हैं.

अगर आपको पता नहीं हो तो हम आपको बताना चाहेंगे कि 2011 में  लीसा जेन कैंपबेल ने राइनो पर एक ईमेल भेजा था. जिन्हें गैंडो के प्रति प्यार था. जिन्होंने गैंडो की लगभग 5 प्रजातियों को देखना चाहती थी. और भविष्य की पीढ़ियों को भी इसके बारे में आनंद लेने के लिए कहना चाहती थी.

गैंडो के दिवस पर अविश्वसनीय महिलाओं के हाथ में दुनिया भर में फैलने वाली शानदार सफलता थी. हालांकि यह अभी भी इस पर काम कर रही है. क्योंकि दुनिया में लगभग सिर्फ 100 सुमात्रन गैंडे बचे हैं. साथी 60  से 65 जावा गेंडे बचे हुए हैं. इसीलिए अब अफ्रिका में भी राइनो उसकी आबादी अच्छी चल रही है, तो अभी उन्हें बहुत से बचाने बाकी है.

world rhino day kaise manaye  | विश्व राइनो दिवस कैसे मनाएं

विश्व राइनो दिवस मनाने के लिए हमें कई सारी चीजें करनी चाहिए. इस दिवस पर हमें गेंदों को बचाने के बारे में ही कई सारे तरीके वो को सोचना चाहिए. हमारी आधुनिक दुनिया में हिंदुओं की दुर्दशा पर हमें खुद को शिक्षित करने से शुरुआत करनी होगी. साथ ही हमें सभी लोगों को भी इंसान रचनाओं के बारे में महत्व प्रदान करना होगा.

गेंडों की ताकत, उनका लचीलापन ऐसे कई सारे प्रभावशाली प्रतीत होते हैं. और उनके लक्षणों को हासिल करने के लिए उनकी जान लेना कहां तक सही बात होगी? हम इंसानों के लिए तो यह बहुत ही शर्मनाक बात है क्योंकि यह एक ऐसी प्रजाति है जो हमारे साथ हमारे अस्तित्व को बनाती है. और साथ ही शानदार प्राणियों की वजह से प्रकृति की श्रंखला आपस में जुड़ी हुई है. इसी वजह से हमें इन ताकतवर जानवरों को दुनिया से गायब होने से बचाना होगा.

इस वजह से आप अपने दोस्त एवं परिवार के साथ मिलकर कुछ धन इकट्ठा करते हुए WWF जैसे बड़ी संस्थाओं को दान कर सकते हैं. और साथ ही अपने साथियों और रिश्तेदारों को भी गैंडो की बारे में जानकारी देते हुए उन्हें इनकी विलुप्तता से परिचित करा सकते हैं. और साथ ही साथ #rhinoday  को टैग करते हुए इस दिवस को मनाने के लिए अपना योगदान दे सकते हैं.

आपको अगर हमारा यह विश्व राइनो दिवस पर आधारित लेख पसंद आ गया हो और आपने भी गैंडो को बचाने के लिए मदद करने की ठान ली हो, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करते हुए हमें जरूर बताएं.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *