Press "Enter" to skip to content

Reading (पढ़ना) क्यों जरुरी है शार्ट वीडियोस के दौर में भी?

आपको प्रतिदिन कुछ नया पढ़ने (Reading) के लिए महत्वपूर्ण कारणों में से एक यह है कि यह आपको मानसिक, भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक रूप से अधिक सक्षम बनाने में मदद करना. हर लेख / किताब आपको नई चीजें सीखने और नए विचारों को तलाशने का मौका देती है. पढ़ने (Reading) से आपका ज्ञान बढ़ता है और आप पहले से ज्यादा होशियार होते हैं.

लेकिन पढ़ने (Reading) का महत्व सिर्फ इन लाभों तक सीमित नहीं है. आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि लेख पढ़ना आपके लिए कितना फायदेमंद हो सकता है. ये सभी फायदे आपको इस लेख में यहां मिलेंगे. सबसे पहले तो आपका अभिनन्दन जो आपने ये लेख पढ़ने के लिए चुना, तो आईये सुनते है पढ़ने की फायदे.

पढ़ना (Reading) सभी के लिए महत्वपूर्ण होने १० कारण!

१. यह आपको खुद को खोजने में मदद करता है

हर अच्छी किताब या लेख, पाठक के विचारों के लिए नए आयाम खोलती है. जब आप कोई लेख / किताब पढ़ते हैं, तो आप किसी तरह उसमे में होने वाली घटनाओं, भावनाओं, अनुभवों और पात्रों को खुद से जोड़ने की कोशिश करते हैं. यह न केवल आपको उसीमे में तल्लीन रखता है, बल्कि यह आपको यह एहसास भी कराता है कि आप उन स्थितियों पर कैसे प्रतिक्रिया देंगे और महसूस करेंगे जो अभी तक आपके जीवन में नहीं हुई हैं.

यह आपकी पसंद और नापसंद के आयामों और उन चीजों को व्यापक बनाने में आपकी मदद करता है जो आपको खुश करेंगे. इसलिए आपके द्वारा पढ़े जाने वाले प्रत्येक लेख के साथ, आपके पास खुद का एक नया हिस्सा खोजने का मौका है.

२. अनुभव के वर्षों से भी अधिक जल्दी मूल्यवान सबक प्रदान करता है

लेख / किताबें एक दिन में नहीं लिखी जातीं. एक लेखक के लिए, एक लेख / पुस्तक को लिखने के लिए बहुत मेहनत, समझ, अनुभव, ज्ञान और कई मामलों में बहुत दर्द होता है. लेकिन हम एक पाठक के रूप में उन्हें सिर्फ हफ्तों या दिनों में पढ़ते हैं, जिससे वर्षों के अनुभव काफी कम समय में आप समझ सकते है.

३. यह आपके फोकस / एकाग्रता में सुधार करता है.

इंटरनेट ने निश्चित रूप से हमारी दुनिया में क्रांति ला दी है. लेकिन इसमें बहुत बड़ी खामी भी है. हम में से कई लोगों के लिए, हमारे दिन का एक बड़ा हिस्सा टिक टोक जैसी शार्ट  वीडियो देखने में, अनावश्यक मिम्स और सोशल मीडिया पर फोटो वीडियो देखने में व्यतीत होता है. कोई आश्चर्य नहीं कि लोग अधिक अधीर हो रहे हैं.

हालाँकि, लेख / किताबें पढ़ना उन रचनात्मक आदतों में से एक है जो वास्तव में हमारी एकाग्रता शक्ति को बेहतर बनाने में हमारी मदद करते हैं. यह हमारे दिमाग को हमारा ध्यान केंद्रित करने और वर्तमान में जीने के लिए मदद करता है.

४. पढ़ने (Reading) से आपके भावनात्मक स्वास्थ्य में सुधार होता है

लेख / किताबें भावनाओं से भरी होती हैं. कभी-कभी वे आपको हर मोड़ के साथ रुलाते हैं और कभी-कभी वे आपको मुस्कुराने पे मजबूर करते है. यह आपको क्रोध से भर सकते है जब कहानी का विरोधी अपनी बुरी योजना में सफल हो जाता है, लेकिन फिर से यह आपको अपने नायक को अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के की बहुत खुशी दे सकता है.

लेख / किताबें हमें खुश, उदास, ईर्ष्या, प्यार, विश्वासघात और इतने पर खुश कर सकती हैं! इस प्रकार लेख / पुस्तकें विभिन्न मिश्रित भावनाओं का एक समामेलन हैं जो अंततः हमें भावनात्मक रूप से बढ़ने में मदद करती हैं!

५. मेमोरी बढ़ाने में पढ़ने (Reading) का महत्व

बहुत सारी चीजें हैं जो हमें लेख / किताब पढ़ते समय याद रखने की जरूरत होती हैं. पात्रों के नाम और उनकी विशेषताएं, स्थानों का नाम, भूखंड और उप-भूखंड, घटनाओं का क्रम, महत्वपूर्ण बातचीत आदि कुछ महत्वपूर्ण जानकारी हैं जिन्हें हमें पढ़ते समय ध्यान में रखना आवश्यक होता है. और इस जानकारी को बनाए रखने की क्षमता में सुधार आपके द्वारा पढ़ी जाने वाली लेख / पुस्तकों करती है.

जैसे-जैसे आपका मस्तिष्क, कहानी-लाइन से जानकारी याद रखना सीखता है, यह आपके जीवन की अन्य चीजों को भी याद रखने की क्षमता को बेहतर बनाता है। इसलिए किताबें पढ़कर, आप अपनी याददाश्त को बेहतर बनाने के लिए अप्रत्यक्ष रूप से अपने मस्तिष्क को प्रशिक्षित कर रहे होते हैं.

“Little measure of creativity is to look into how many post/thoughts you forward/repost and how many you create your own”

Sagar Wazarkar

६. यह प्रेरणा का एक बड़ा स्रोत है

जीवन मुश्किल है, कभी-कभी हमारे जीवन में कुछ ऐसे पल आते हैं जब हम निराश और हताश महसूस करते हैं. हम जीवन में अपनी आशा और रुचि खो सकते हैं और बस हार मानना चाहते हैं. वैसे, इस तरह के समय में, कभी-कभी हम सभी को थोड़ी प्रेरणा, सही दिशा में थोड़ा धक्का देना पड़ता है.

ऐसी अवधि के दौरान एक अच्छी प्रेरणादायक लेख / पुस्तक पढ़ना हमारे सोचने के तरीके को बदल सकता है और हमें आशा और प्रेरणा दे सकता है. लेख / किताबें कोई शक नहीं की एक प्रेरणा का एक बड़ा स्रोत हैं. हम उनसे महान प्रेरणाएँ प्राप्त कर सकते हैं और हमारे जीवन को सकारात्मक रूप से बदल सकते हैं.

७. यह आपके ज्ञान का विस्तार करता है और आपको स्मार्ट बनाता है

लेख / किताबें सूचना का एक बहुत समृद्ध स्रोत हैं. आपके द्वारा पढ़ी गई प्रत्येक लेख / पुस्तक के साथ, आपको नई चीजें सीखने को मिलती हैं. जितना अधिक आप पढ़ते हैं, उतना ही आप विभिन्न लोगों, उनके व्यवहार और अनुभवों, विभिन्न स्थानों, विभिन्न संस्कृतियों और तथ्यों के बारे में जानते हैं जो अन्यथा आप नहीं जान पाओगे.

Why reading is important

लेख / किताबों को पढ़ना मतलब दूसरे को अपने ज्ञान के आधार में गहराई जोड़ना है. अपने बढ़ते ज्ञान के साथ, आप जीवन में बेहतर निर्णय और विकल्प बनाने में सक्षम हो जाते हैं. आप अपने आस-पास के बारे में जागरूक हो जाते हैं और खुले दिमाग वाले हो जाते हैं.

बहुत सी नई चीजों के साथ, जो लोग पढ़ते हैं, जाहिर है वे उन लोगों की तुलना में अधिक चालाक होते हैं जो सिर्फ शार्ट वीडियोस ही देखते है!

८. आपकी कल्पना को व्यापक बनाता है और आपकी रचनात्मकता को बढ़ाता है

यह लेख / किताबों की खूबसूरती है जो आपको संभावना से परे चीजों की कल्पना करने पर मजबूर करता है – ऐसी चीजें जो हमारे दिमाग में सामान्य रूप से नहीं आती हैं. लेख/  किताबे आपको सोचने के लिए बहुत कुछ देती हैं. वे आपको अपने दृष्टिकोण और कल्पनाओं को खेलने का अवसर भी देते हैं!

इसके अलावा, विभिन्न रचनात्मक चरित्र, भूखंड, और दृष्टिकोण आपकी रचनात्मकता को भी ट्रिगर करते हैं. आप रचनात्मक और कल्पनाशील दोनों बन जाते हैं!

९. यह आपको अधिक सशक्त बनाता है

एक और कारण जिससे पढ़ना महत्वपूर्ण है यह है कि यह आपको सशक्त बनाता है, सहानुभूति होने का अर्थ यह है की दूसरों की भावनाओं को समझना और साझा करना. लेख / पुस्तकें आपको उनके पात्रों और भूखंडों से जोड़ती हैं. आप खुद किताब का हिस्सा बनते हैं और महसूस करते हैं कि पात्रों को क्या महसूस करना चाहिए. आप उनके दर्द और शिकायतों को समझते हैं.

लेख / किताबें भी किसी न किसी तरह आपको लेखकों से जुड़ाव का अहसास कराती हैं. आप लगातार लेख / पुस्तक के साथ किसी प्रकार की बातचीत में रहते हैं. जब आप लेख / किताबें पढ़ने (Reading) के लिए चौकस होते हैं, तो आप वास्तव में सुन रहे होते हैं कि पुस्तक को आपसे क्या कहना है. यह आपको एक अच्छा श्रोता बनाता है. इसलिए किताबें पढ़ने (Reading) से सहानुभूति का विकास होता है और इस प्रकार आपको यह समझने में मदद मिलती है कि अन्य लोग विभिन्न परिस्थितियों में क्या महसूस करते हैं.

१०. तनाव कम करता है और आपको बेहतर नींद आने में मदद करता है

पढ़ना आपके मन को शांत करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है. यूनिवर्सिटी ऑफ ससेक्स के एक शोध के अनुसार छह मिनट तक पढ़ने (Reading) से भी आपके तनाव का स्तर 68 फीसदी तक कम हो सकता है! मनोवैज्ञानिकों का मानना ​​है कि ऐसा शायद इसलिए होता है क्योंकि जब हम किसी लेख / किताब में खो जाते हैं, तो हमारा दिमाग पढ़ने (Reading) पर केंद्रित होता है और वास्तविक दुनिया से थोड़ी सी दूरी और एक साहित्यिक दुनिया में हमारी समस्याएं मांसपेशियों और दिल में तनाव को कम कर देती हैं.

तो अपने दिमाग को आराम देने का अंतिम तरीका एक लेख / किताब में खुद को खोना है! अधिक पढ़ें और आप खुद महसूस करेंगे कि समय के साथ आपका तनाव स्तर काफी कम हो गया है. पढ़ने (Reading) का हमारे जीवन में एक और महत्वपूर्ण पहलू पर बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ता है – जो है एक अच्छी रात की नींद! किताबें पढ़ने (Reading) से आपका दिमाग शांत होता है और आपको बेहतर नींद आती है.

हालांकि, बिस्तर पर जाने से पहले थ्रिलर, हॉरर और रहस्य या रहस्य शैली की लेख / किताबें पढ़ने (Reading) से बचें. यदि आप ऐसी किताबों में खोए रहते हैं, तो आप शायद सोने के बजाय जागते रह सकते हैं. इसलिए, कुछ शांत, प्रेरणादायक लेख को बेहतर ढंग से पढ़ें, जो आपको बिना अधीर किए आपको सकारात्मक वाइब्स प्रदान करेंगे.


जितना की आपने देखा की इन १० कारणों के भी अलावा कुछ चीजे है जो आपको प्रतिदिन पढ़ने की आदत डालने को मजबूर करेंगे जैसे की अपनी महत्वपूर्ण और विश्लेषणात्मक सोच को बढ़ाना, आपको विनम्र बनाना, आपकी शब्दावली एवं भाषा कमांड और वार्तालाप कौशल में सुधार करना, अपने मस्तिष्क के कार्यों में सुधार करना, आपको ज्यादा अकेलापण महसूस नहीं होने देना, आपको एक अच्छा व्यक्ति बनाना. तो आओ चले आजसे प्रति दिन कमसे कम एक लेख पढ़े, उसके लिए अपना 👉🏻 वर्थ २ शेयर के आर्टिकल पेज आपको प्रतिदिन एक अच्छा पढ़ने और शेयर करने लायक लेख प्रदान करने में मदत करेगा.

– सागर वझरकर
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया

Comments are closed.