Press "Enter" to skip to content

क्या होता है जब आप किसी वेब पेज लिंक को ओपन करते है?

जब भी आप किसी वेब लिंक को ओपन करते है, और उसके बाद वह वेब पेज पूरी तरह से आपके ब्राउज़र में लोड होता है. इस छोटी सी प्रक्रिया मे बहुत सी चीजें होती हैं. उन सभी चीजों को पूरा होने मे कुछ मिलीसेकंड से लेकर कई मिनट तक का समय लगता है. इस प्रक्रिया को हम इस लेख मे विस्तार से देखते है…

वेब ब्राउज़र मे वेब पेज लोड होने तक का रास्ता

इसमे कुछ सामान्य स्टेप्स होते हैं, जो आपके द्वारा रीक्वेस्ट किए गए वेब पेज को आपके ब्राउज़र में प्रदर्शित होने के समय के बीच में होते हैं.

  1. डीएनएस लुकअप (DNS Lookup)
  2. ब्राउज़र एक HTTP रीक्वेस्ट भेजता है
  3. सर्वर प्रतिक्रिया करता है और रीक्वेस्ट की गई HTML फ़ाइल को वापस भेजता है
  4. ब्राउज़र HTML पेज को रेंडर करना शुरू करता है
  5. ब्राउज़र HTML फ़ाइल (CSS फ़ाइलें, Images, JavaScripts, etc) में एम्बेडेड वस्तुओं के लिए अतिरिक्त रीक्वेस्ट भेजता है

इन सामान्य स्टेप्स में से प्रत्येक में और अधिक तकनीकी स्वरूप से चरण होते हैं लेकिन हम आसान स्टेप्स को समझने की कोशिश करते है.

१) डीएनएस लुकअप (DNS Lookup)

Step 1

यह सबसे पहला स्टेप होता है, कोई भी वेबसाईट को Domain.com इस प्रकार से याद रखने में आसानी होती है, लेकिन IP अड्रेस जैसे 159.122.35.130 आकड़ों को याद रखना आसान नहीं होता. यह आईपी अड्रेस ये बताता है कि सर्वर कैसे और कहा स्थित हैं, इसलिए वेब पेज को रीक्वेस्ट करने वाला पहला स्टेप डोमेन को आईपी अड्रेस में परिवर्तित करना होता है.

२) ब्राउज़र रीक्वेस्ट भेजता है

Step 2

किसी वेब ब्राउज़र ने DNS लुकअप का प्रदर्शन करने के बाद, ब्राउजर उचित सर्वर पर एक HTTP रीक्वेस्ट भेजता है. इसका मतलब ये नहीं की सिर्फ HTTP की ही रीक्वेस्ट की जाए. यह HTTPS या हाल ही में एक HTTP / 2 रीक्वेस्ट भी हो सकती है. इस स्टेप मे आपका ब्राउज़र एक विशिष्ट फ़ाइल, अक्सर एक HTML फ़ाइल के लिए रीक्वेस्ट भेजता है.

३) सर्वर रीक्वेस्ट का जवाब देता है

Step 3

एक बार सर्वर को रिक्वेस्ट मिलने के बाद, सर्वर अपनी प्रतिक्रिया देता है, हालांकि यह कई चीजों पर निर्भर करता है . उदाहरण के लिए, रीक्वेस्ट किया गया वेब पेज अब सर्वर पर अगर मौजूद नहीं हुआ तो सर्वर 404 Error के साथ (फ़ाइल नहीं मिली) त्रुटि को वापस ब्राउजर भेज देता है. यह भी संभव है कि फ़ाइल को एक नए स्थान पर ले जाया गया है और रीक्वेस्ट को अस्थायी रूप से (302) या स्थायी रूप से (301) पुनर्निर्देशित किया जा रहा है. यदि ऐसा है तो आपके ब्राउज़र को नए स्थान पर फ़ाइल के लिए एक और रीक्वेस्ट करने की आवश्यकता होगी.

४) ब्राउज़र वेब पेज को रेंडर करता है

Step 4

एक बार जब आपका ब्राउज़र एक HTML फ़ाइल प्राप्त करता है, तो उस वेब पेज को रेन्डर करने की आवश्यकता होती है, और किसी भी वेब पेज को प्रदर्शित करने से पहले आपको कुछ स्टेप्स से गुजरना पड़ता है. इन चरणों को महत्वपूर्ण रेंडरिंग का पाथ / रास्ता कहा जाता है. आपके ब्राउज़र को इन सब स्टेप्स की आवशेकता होती है कोई भी वेब पेज को लोड करने के लिए.

अब आपको यह समझ आया होगा की जब भी आप url को किसी ब्राउज़र में टाइप करते हैं या एक पेज से दूसरे पेज के लिंक पर क्लिक करते हैं, तो उसके बाद काफी सारे स्टेप्स से गुजरना पड़ता है. उम्मीद है कि आप इस बात को समझके कोई भी लिंक या वेबसाईट को ओपन करने के बाद, थोड़ा धैर्य दिखाके उसके पूरा लोड होने तक इंतेजार करोगे.

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे. WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

© सागर वझरकर
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया

Worth-to-Share

Comments are closed.