Press "Enter" to skip to content

12 Sept: video games diwas | वीडियो गेम्स दिवस dinvishesh

video games diwas : आज 12 सितंबर के दिन हम video games diwas  वीडियो गेम्स् दिवस मनाएंगे. और उसके बारे में जानकारी भी लेंगे. दोस्तों जैसे कि हम जानते हैं आज की दुनिया में PlayStation, PC,  Gameboy जैसे अन्य गेम के डिवाइस हमारे लिए उपलब्ध है, जो कि हम हर रोज गेम खेलने के लिए उपयोग में लाते हैं.

गेम को खेल कर हमें अति आनंद आता है सही कहा ना दोस्तों? आप भी तो हर रोज नहीं तो कभी ना कभी गेम खेलकर इस का आनंद लेते ही होंगे ना. देखा जाए तो गेम खेलना हमारे संस्कृति कार्यक्रम को परिभाषित करता है. फिर चाहे वह मैदान में क्रिकेट का गेम खेलना हो या फिर कबड्डी, खो-खो.

लेकिन आज स्कूल की बच्चों की यह मैदानी खेल खेलना जैसे कठिनाइयों से भरा काम हो चुका है. बच्चों को मोबाईल पर या फिर टीवी पर ही वीडियो गेम खेलते हुए देखा जाता है. एक तरफ से कहां जाए तो यह उनके भविष्य और उनके स्वास्थ्य के लिए भी चेतावनी जरूर होगी. यह बात किसी खतरे की घंटी से खाली नहीं है.

लेकिन फिर भी वीडियो गेम मैं दुनिया की संस्कृतियों अलग तरीके से परिभाषित कर दिया है. और इसी भाग को याद करने के लिए और साथ ही कई तरह के नए नए गेम को उत्तेजना देने के लिए ही यह दिवस समर्पित किया गया है.

video games diwas ke bare me adhik jankari

देखा जाए तो इस बात से कोई भी फर्क नहीं पड़ता कि आप किसी वीडियो गेम के बहुत बड़े फैन हो. या फिर आप बड़ी मुश्किल से कभी कभार ही वीडियो गेम खेलते हो. लेकिन फिर भी यह वीडियो गेम दिवस हम सभी लोगों के लिए एक मजेदार तरीके से बस गेम खेलने के लिए उत्तेजित और प्रेरित करने के लिए बनाया गया दिवस है.

आज के दिन आप अपने पुराने स्कूल की खेलों पर थोड़ा सा लगाम जरूर लगा सकते हैं. और वीडियो गेम में नए नए खेल को और नए-नए चरणों को आजमा ते हुए एक-एक लेवल पार कर सकते हो. ताकि आप इसमें और अधिक तरीके से मास्टर बनो. जैसा कि हमने कहा है ये तो पूरी तरह से आप पर निर्भर होता है कि आप जिस खेल में आस्था चाहते हो. वही आप खेलते हुए अपने आपको उसमें पूरी तरह से दंग हो जाते हो.

लेकिन इस तथ्य के बावजूद भी वीडियो गेम को बुरा आयाम भी मिलता है. जब बच्चे इस वीडियो गेम को बहुत ज्यादा देर तक खेलते हैं. क्या आप जानते हैं कि वास्तव में आपका बच्चा कुछ देर के लिए वीडियो गेम खेले तो उसकी मस्तिष्क की स्मृति तेज हो सकती है? बेशक आज कल सभी खेल पूरी तरह से शैक्षिक मूल्य को प्रदान नहीं करते.

लेकिन कुछ खेल ऐसे होते हैं जो हमारे दिमाग को समस्याओं से समझाने में और टीम वर्क एक ऐसे काम करना है, यह समझाने में काबिल होते हैं. वैज्ञानिकों ने भी है सिद्ध कर दिया है कि हमारे मस्तिष्क में जो ग्रे पदार्थ होता है, वीडियो गेम खेलने से वह बढ़ता हुआ दिखाई दिया है. वहां तो में वीडियो गेम खेल कर हम अपने आप को कुशल बनाते हैं. ताकि हम अपने जीवन में आई किसी भी समस्याओं पर समाधान ढूंढ सके.

साथ ही आपको यह बात भी पता होगी हाल ही में यह बात पता चली है कि, जो वयस्क किसी भी तरह का वीडियो गेम खेलते हैं. अपने साथियों की तुलना में अधिक आरामदायक और कम तनावग्रस्त भरा महसूस करते हैं. और खुशहाल जिंदगी व्यतीत करते हैं. इसके अलावा भी जब भी आपको अपने आसपास भीड़ जमा हुई मिली हो, तो आप तनाव की एक नए चरण को भी महसूस कर सकते हो. और लोगों की तालियों का सही ढंग से उपयोग करते हुए अपने जीवन में कोई भी काम अच्छी तरह से पूरा कर सकते हो.

video games diwas ka itihas

वीडियो गेम दिवस वास्तव में वीडियो गेम के इतिहास से बहुत ज्यादा अच्छे तरीके से जुड़ा हुआ है. और यह इतिहास को बाकी चीजों की तुलना में बहुत पीछे ले जाता है. सबसे पहले बनाया गया वीडियो गेम अक्सर बर्टी द ब्रेन के रूप में ही माना जाता है. यह कृत्रिम बुद्धि से टिक टॉक टो जैसे खेलने के लिए बनाया गया था.

आप कल्पना कर सकते हैं कि वास्तव में कनाडा की राष्ट्रीय प्रदर्शनी के बाद इसका खुलासा हुआ था. निम्रोड नामक एक कंप्यूटर का निर्माण किया गया था. 1951 के ब्रिटेन के समारोह में यह कंप्यूटर प्रदर्शित किया गया था. और इसमें नीम नामक गेम खेलने के लिए तैयार किया गया था.

वैसे तो कंप्यूटर हो या वीडियो गेम हमारे जीवन में अक्सर बहुत ज्यादा तेजी से बढ़ने वाले विषय बन चुके हैं. वीडियो गेम खेलना अमीरों की लग्जरी आइटम हुआ करता था. और जो ज्यादातर लोगों के घरों का एक मानक हिस्सा कहां जाता था.

video games diwas kaise manaye 

यह वीडियो गेम दिवस मनाने के लिए आपके पास बहुत ही आसान और करते हैं. आप या तो अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक अच्छा सा वीडियो गेम समूह में खेले. जिससे कि आपके जिंदगी में आई हुई पुरानी यादों को फिर से एक बार उजाला मिले. और आप खुशी के आंसुओं में खुद को डूबा हुआ पाएंगे.

यदि आप अपने दोस्तों के साथ कहीं बाहर ही घूमने जाना चाहते हो. तो आप अपने स्थानीय कॉलेज या फिर आपके फंक्शन हॉल में भी ये वीडियो गेम खेल कर इसका आनंद उठा सकते हैं. निश्चित रूप में वीडियो गेम दिवस आपके विचारों की सजावट को निखार देता है. यह दिवस डिजिटल याद के रूप में आपके एक बहाना देता है कि ताकि आप कई अन्य लोगों से भी मित्रता के बारे में सोच कर उनसे मित्रता कर सके.

हमें आशा है दोस्तों कि हमारा यह वीडियो गेम्स दिवस पर आधारित लेख आपको बहुत ज्यादा पसंद आया होगा. और अगर कोई ऐसा वीडियो गेम खेलने की पुरानी इच्छा को पूरी करने की आपमें तमन्ना जाग गयी हो, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करते हुए हमें जरूर बताइएगा.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *