Press "Enter" to skip to content

२३ मई: कछुआ दिवस (Turtle Day) – दिनविशेष

दोस्तों, आज हम कछुआ दिवस मना रहे हैं. तो आइए इसके बारे में अधिक जानकारी लें. हम कछुओं के बारे में हमेशा सुनते हैं, कि वे धीमे, स्थिर और शांत रहने वाले जीव है.

कछुआ एक प्रकार का सरीसृप है, जो दुनिया भर के कई वातावरण में मौजूद होता है. विश्व कछुआ दिवस इन महान सरीसृप और लुप्तप्राय होने वाले जानवरों की रक्षा में मदद करने के लिए हमें प्रोत्साहित करता है.

कछुआ दिवस का इतिहास 

वैसे आपको यह जानना जरूरी है कि टॉरटॉइज और टर्टल एक ही जानवर नहीं है. हालांकि यह दिन दोनों को मनाने और उनकी सुरक्षा के लिए समर्पित है.पहली बार 1990 में अमरीकी कछुआ बचाओ टीम द्वारा यह दिन मनाया गया.

यह दिन कछुए की लगभग विलुप्त होने वाली प्रजातियों को पर्यावरण के खतरे से, शिकार से और उनके अंडों की कटाई के मुद्दों से बचाने के लिए समर्पित है.अमेरिकी कछुआ बचाव टीम की सुसान टेलनेम और मार्शल थॉम्पसन द्वारा यह दिन बनाया गया था, जो कि पशु कार्यकर्ताओं की एक शादीशुदा जोड़ी थी और उनमें कछुओं के लिए एक विशेष जुनून था.

हम सभी के पास ऐसा जुनून होता है, जिसे हमें जीवन में आगे बढ़ाना ही चाहिए. वे दोनों इन अद्भुत जानवरों की सुरक्षा में मदद करने के लिए दुनिया भर में चैरिटी संग्रह स्थापन करते हैं और सभी लोगों को इनमें शामिल करने का प्रयास करते हैं और इन संवेदनशील प्राणियों की घटती संख्या के बारे में जागरूकता फैलाने का अत्यंत महत्वपूर्ण काम करते हैं.

तो अब हम जानेंगे कि ‘टॉरटॉइज’ और ‘टर्टल’ में क्या अंतर है. हालांकि वे दोनों ही सरीसृप है; लेकिन दोनों के बीच मुख्य अंतर यह है कि, टर्टल कुछ समय के लिए ही क्योंं ना हो, लेकिन पानी में रहते हैं. जबकि टॉरटॉइज ज्यादा समय तक जमीन पर रहते हैं. 

पानी में ज्यादा देर तक रहने की वजह से टर्टल कछुए सुव्यवस्थित और ज्यादातर सपाट पीठ के गोले की तरह होते हैं. जबकि टॉरटॉइज अक्सर अधिक बड़े और अधिक गुंबददार होते हैं.

टॉरटॉइज 300 से अधिक वर्षों तक जीवित रह सकते हैं. हालांकि उनका औसत जीवनकाल लगभग 150 वर्षों तक हो सकता है. टर्टल 40 वर्ष की आयु तक जीवित रहते हैं, लेकिन एक रिकॉर्ड तोड़ने वाला टर्टल 90 वर्ष की आयु तक जीवित था.

Turtle Day कैसे मनाएं

कछुआ दिवस मनाने के लिए और कछुओं के संरक्षण को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए आप अपने निजी क्षेत्र में क्या कर सकते हैं, इस बारे में आप अमेरिकी कछुआ बचाओ टीम से संपर्क कर सकते हैं. 

यदि आपके क्षेत्र में कछुओं के संबंधित कोई गतिविधियां नहीं हो तो अपने क्षेत्र के सांप की प्रजातियों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए भी आप सामने आ सकते हैं. साथ ही कछुओं के लिए काम करने वाले संस्थाओं को ऑनलाइन दान भी कर सकते हैं और लोगों में जागरूकता अभियानों की व्यवस्था भी कर सकते हैं. 

आप अपने स्थानीय दोस्तों की मदद से कछुओं या अन्य सरीसृप को संरक्षण दे सकते हैं और लोगों को भी उस संरक्षण क्षेत्र से दूर रहने के लिए कह सकते हैं.यदि आपके पास अपना कछुआ है, तो इस विशेष दिन पर आप उसका विशेष ख्याल रख सकते हैं. उसकी पानी की टंकी को स्प्रिंग डीप क्लीन कर के उसके लिए सर्वोत्तम संभव वातावरण तैयार कर सकते हैं. अध्ययन बताते हैं कि कछुए अपने मालिक की आवाज को जवाब दे सकते हैं, तो क्यों न उसे पसंदीदा ब्रोकोली के साथ आवाज दिया जाए? 

यदि आपके पास कोई कछुआ नहीं है तो भी आप अपने आसपास के समुद्र तटों को साफ रखते हुए पर्यावरण को हानि पहुंचाने से बचा सकते हैं. साथ ही आसपास का कूड़ा-कचरा और प्लास्टिक की बोतलों से समुद्र के आसपास का परिसर साफ-सुथरा और स्वच्छ बनाने में मदद कर सकते हैं.

हमारा यह ‘कछुआ दिवस’ पर आधारित दिनविशेष का लेख पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद! हम आपके लिए रोज ऐसेही अच्छे लेख लेकर आते है. अगर आपको यह लेख पसंद आता है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों को इसे फॉरवर्ड करना ना भूले. साथ ही हमारी वेबसाइट को रोजाना भेंट दे

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share
Learn more, spend less. Get top courses for as little as ₹ 455