Press "Enter" to skip to content

टिकटोक (TikTok) इन्सटाल्ड नहीं? तब भी ये जानना बेहद जरुरी है!

क्या टिकटोक (TikTok) यूज करना सुरक्षित है? हाल ही में टिकटोक मोबाइल एप्लीकेशन की डाउनलोड संख्या पुरे विश्व में १०० करोड़ से ज्यादा हो गयी. इसका मतलब है की पूरी दुनिया के आबादी का १/७ का हिस्सा टिकटोक का यूजर है.

इस एप्लीकेशन में क्या होता है.. वीडिओज़ होते है या और कुछ, क्या वो आपको अच्छी बाते सिखाते है, वो अच्छा है…बुरा है. ये सब आज हम इस लेख में नही देखेंगे. क्यों की इस लेख का मकसद ये नहीं की, आपको बताये टिकटोक यूज करना है या नहीं.

यह लेख लिखने के लिए, मैं प्रेरित इस बात से हुआ की आजकल एक ट्रेंड चल रहा है “एप्लीकेशन डाउनलोड करो फिर ख़राब रेटिंग दो और अनइंस्टाल करो”. लेकिन इसके अलावा भी मेरे भारतीय युवा भाई बहनो को कुछ बाते समझनी चाहिए. और ये सब टिकटोक एप्लीकेशन बिना यूज करे, या उसे एकबार भी बिना डाउनलोड करे बिना आज मैं इस एप्लीकेशन से जुड़ी बातें लिख सका हुँ.

मेरा यह मानना है की हर कोई चीज अनुभव के साथ ही सीखना जरुरी नहीं होता, कुछ चीजे पहले ही समझदारी से समझ लेनी पड़ती है.

इस लेख को लिखने से पहले, कुछ चीजों को मैंने बारीकी से समझा है और उसके बाद ही आपके साथ साझा करने का फैसला लिया. अगर आपको फिरभी लगता है की इन सभी बातो का आपको कोई मतलब नहीं. या आपको ९६ सेकण्ड्स से ज्यादा कुछ अच्छा पढ़ने का, या समझने का धैर्य और संयम नहीं (जो की Short Videos की देन है). तो आप इस लेख को पढ़ना यही रोक सकते हो, लेकिन अगर आपको लगता है की इसमें कुछ तो सोचने लायक, समझने लायक है, तो आप इस लेख को खुद समझके अपने दोस्तों के साथ, अपने परिजनों के साथ शेयर कर सकते है.

कोनसी बात TikTok को, बाकि एप्लीकेशन से अलग बनाती है?

अगर आप मेरे जैसे उन चुनिंदा लोगो में से एक हो, जिन्होंने टिकटोक एकबार भी इनस्टॉल नहीं किया है तो आपको लग सकता है की, क्या करे इस लेख को पढ़के? लेकिन इतने तो आप गिने चुने होंगे ही नहीं, जिसका कोई ऐसा दोस्त नहीं, परिजन नहीं जिनके फ़ोन में टिकटोक installed नही.

मैंने खुद, मेरे करीबी दोस्त शेखर को इस एप्लीकेशन को इनस्टॉल करते हुए देखा है. वो दोस्त जिसने कितनी बार इस प्रकार के एप्लीकेशन की या उनके यूजर्स का मजाक उड़ाते देखा है. अगर मेरे ऐसे दोस्त को इसका संक्रमण हो सकता हो तो आप आगे सोच सकते हो… यही एक बात खास लगी मुझे टिकटोक के बारे में जो बाकि मोबाइल एप्लीकेशन से अलग है.

आपकी कोनसी परमिशन चाहिए होती है Tiktok को…

जब आप पहली बार वीडियो रिकॉर्ड करने जाते हो, तो टिकटोक आपको आपके कैमरा की, ऑडियो रिकॉर्ड करने की, और SD कार्ड एक्सेस करने की परमिशन मांगता है.  और ऐसी परमिशन मांगना आम बात है किसी भी एप्लीकेशन के लिए. 

लेकिन क्या है वो चीज जो टिकटोक को सबसे अलग बनाती है ? ऐसी कोनसी परमिशन है, जो टिकटॉप आपसे मांगता नहीं फिरभी आपसे आपका डाटा चुराता है. वो है आपका लोकेशन !!  आप इस बात की पुष्टि कर सकते हो, फ़ोन के सेटिंग में जाके एप्लीकेशन की परमिशन को देखो, लोकेशन की परमिशन आपको दिखाई नहीं देगी.

टिकटोक की भाषा चुनते समय, आप जो भी भाषा चुनते हो… बस उसके ही हिसाब से वो आपको वीडियो नहीं दिखता है, वो दिखता है आपके लोकेशन के हिसाब से. आप कितना भी लोकेशन ऑफ करो फिरभी वो आपकी लोकेशन को ट्रैक करेगा ही.  ऐसा करना तो किसी भी बड़े कंपनी के एप्लीकेशन के लिए आसान नहीं यहातक की आरोग्य सेतु भी ठीक तरह चलता नहीं जबतक आप उसको अपनी लोकेशन की परमिशन नहीं देते.  मैं पुणे में हु, मुझे मराठी और हिंदी आती है ये टिकटोक को कैसे पता चलता है जब मैं सिर्फ इंग्लिश भाषा का चयन करता हु?

क्या लिखा है टिकटोक के प्राइवेसी पालिसी में?

VPN की मदत से आप अपना लोकेशन चेंज करके कुछ एप्लीकेशन को बेवकूफ बना सकते हो, लेकिन टिकटोक को नहीं. इस ट्रिक के साथ अगर आप अपना लोकेशन किसी दूसरे देश का सेट करते हो, तो यूट्यूब भी आपको उसी देश में दिखाई देने वाली ही विज्ञापन दिखायेगा. लेकिन टिकटोक आपको वीडियोस आपके असली लोकेशन के हिसाब से ही दिखायेगा.  क्युकी टिकटोक आपके SIM Card से डाटा कलेक्ट करता है , हैरानी हुई न? लेकिन ये सच है , इस बात की पुष्टि आप टिकटोक के प्राइवेसी पालिसी में देख सकते हो.

टिकटोक की प्राइवेसी पालिसी पढ़ने के लिए निचे दी गयी लिंक को विजिट करे
https://www.tiktok.com/legal/privacy-policy?lang=en

क्या आप समझ पा रहे हो की ये कितना हानिकारक है?

सीधा सिम कार्ड से आपकी जानकारी लेना ये क्या आपको कुछ ज्यादा ही नहीं लगता? टिकटोक आपको इसके बारे में कोई चेतावनी भी नहीं देता, ये बस बोलते है की आपका डाटा ऑटोमेटिकली कलेक्ट कर लेंगे. अगर आप कोई भी सोशल मीडिया का अकाउंट टिकटोक से जोड़ते है तो वो, वहा की आपकी जानकारी कलेक्ट कर लेता है.

और क्या क्या कर सकता है टिकटोक?

  • टिकटोक कंटेंट डेलिवरी के लिए HTTP सर्वर उसे करता है, HTTPS नहीं और HTTP सर्वर हैक हो सकते है.
  • आपका अकाउंट डिलीट होने के बाद भी टिकटोक जबतक चाहे आपका डाटा उनके सर्वर पे रख सकता है.
  • टिकटोक की पैरेंट कंपनी ByteDance यह एक आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस कंपनी है , चीन का मिशन ही है की उनको २०३० तक AI में सुपर पावर होना है.
  • आपको, क्या अच्छा लगता है और क्या नहीं, किस बात से आप सहमत हो या किस बात से नहीं, ये सभी बाते आप जाने अनजाने में चीन को भेज रहे हो. क्या ये सही हो रहा?
  • इसी बात को समझकर इंडियन मिलिट्री के आर्म्ड फोर्से को कुछ मोबाइल एप्लीकेशन रखने की परमिशन नहीं होती.
  • भारत में फ़िलहाल अबतक कोई Data Protection Act नहीं है.
  • इसलिए हमे खुद होकर समझदार बनना होगा.
  • चीन के भारत के प्रति मनसूबे आपको अलग से बतानी की जरुरत नहीं.
  • और आप इसप्रकार के एप्लीकेशन के माध्यम से उनका समर्थन कर रहे होते हो.

इन सभी बातो को जानकार क्या आपको टिकटोक या उसके जैसे मोबाइल एप्लीकेशन को डिलीट करना चाहिए? ये बताने का मेरा मकसद नहीं है, और ये सब बताना मेरा काम भी नहीं है.  मुझे बस इतना कहना है की आजकल, ये जो ट्रेंड चल रहा, की एप्लीकेशन डाउनलोड करो उसकी रेटिंग को ख़राब कर दो, मेरे हिसाब ये भी सही नहीं है. क्यों की अगर किसी चीज का बहिष्कार करना है तो, उसको ऐसे करो की उस एप्लीकेशन का नाम तक प्ले स्टोर या अन्य किसी जगह सर्च भी न करो. यही एक असली बहिष्कार होगा.

किसी भी मोबाइल एप्लीकेशन के बारे हेतुपूर्ण बुरा लिखना यह इस लेख का मतलब नहीं है, यह बस जानकारी के तौर पर आप पढ़ सकते हो. बाकि सभी आधिकारिक जानकारी आप टिकटोक के प्राइवेसी पालिसी को पढ़कर देख सकते है.

चीन के प्रोडक्ट्स को सस्ता मत समझिये, उनकी ऍप्लिकेशन्स को फ्री मत समझिये. क्यों की हर एक चीज का भुगतान आप कर रहे होते हो जो की काफी कीमती होता है.  क्या आप ऐसा भुगतान करना चाहोगे?

© सागर वझरकर
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया

अगर आपको ये “टिकटोक” जुड़ा लेख पढ़के कुछ हासिल हुआ , या आपको लगा की इस लेख में ऐसी कुछ जानकारी है ,जो आपको अपने दोस्तों के साथ अपने परिजनों के साथ शेयर करना है तो जरूर करे. धन्यवाद!

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

यह लेख भी जरूर पढ़े:
1) Reading (पढ़ना) क्यों जरुरी है शार्ट वीडियोस के दौर में भी?
2) http:// और https:// के बीच क्या फरक होता है?

Worth-to-Share

Comments are closed.