Press "Enter" to skip to content

२१ अप्रैल: चाय दिवस (Tea Day) दिनविशेष

सी.एस. लुईस ने कहा है कि, “आप कभी भी एक कप चाय को उस कप से ज्यादा नहीं मान सकते जैसे कि कोई किताब मुझे सूट हो ऐसी नहीं मिल सकती.”अगर लुईस की बात सही मानें तो हम एक कप अच्छी चाय के लिए भी यह बात सोच सकते हैं. चाय एक ऐसा अद्भुत पेय है जो विभिन्न स्वादों, रंगों एवं विस्तृत जायकों में मिल सकता है और उनमें से प्रत्येक में बनाने वाले व्यक्ति का एक विशिष्ट व्यक्तित्व और चरित्र मिलता है.

इसका उपयोग सुबह के वक्त, कोई भी व्यक्ति चाहें वह साधारण परिवार का हो या बड़े-बड़े धार्मिक अनुष्ठानों की भीड़ हो, इन सबमें किया जाता है. आइए हम भी चाय की एक चुस्की लेकर इस शानदार पेय के दिन का जश्न मनाएं और उन सभी चीजों के बारे में जाने जो Tea Day पर करनी चाहिए.

चाय दिवस का इतिहास

Tea Day का इतिहास दुनिया के इतिहास में सबसे लंबा इतिहास है, ऐसा कहना गलत नहीं होगा. चाय को सबसे पहले चीन, तिब्बत, बर्मा (म्यानमार), तथा उत्तर पूर्वी भारत में विशेष रूप से पाया जाता था. कुछ जगहों पर चाय की पौराणिक उत्पत्ति भी बताई गई है. उनमें से कुछ केवल रोचक है और अन्य काफी भीषण है.एक बार एक सम्राट ने आदेश दिया कि उसके राष्ट्र के सभी लोग पीने से पहले अपना पानी उबालें. जब सम्राट भी ऐसा ही उबला हुआ पानी पी रहा था, तभी अचानक एक पास के पेड़ से कुछ पत्तियां उड़ी और बादशाह के उबले हुए पानी में गिर गई. लेकिन उन पत्तियों का स्वाद बादशाह को बड़ा अच्छा लगा, जिस वजह से पहली चाय ईजाद हुई.

दूसरी अन्य एक कथा की माने तो एक व्यक्ति नौ साल तक एक दीवार के सामने ध्यान लगा कर बैठा रहा. गलती से उसे नींद लगी और वहीं पर सो गया. जब वह जागा, तो अपनी कमजोरी से वह इतना घबरा गया था कि उसने अपनी पलकों को मोड़ कर जमीन पर फेंक दिया, जहां Tea की झाड़ियां उग आई. यह भले ही विवाद की बात है, लेकिन इस बात की उत्पत्ति से चाय के महत्व को नहीं समझा जा सकता है.

हम आपको दृढ़ता से इसके शोध के लिए प्रोत्साहित करते हैं. दूसरी तरफ, आधिकारिक तौर पर बोला जाए तो Tea कैमिलिया सीनेंसिस की पत्तियों का एक जलसेक है, जो एशिया का सदाबहार पीने लायक पेय है. हालांकि इन पत्तियों से युक्त जड़ी बूटियों को ‘हर्बल Tea’ के रूप में संदर्भित भी किया जा सकता है. लोग चाय पीना कितना पसंद करते हैं, इसका आप इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि दुनिया मेंं पानी के बाद Tea ही सबसे अधिक खपत वाला पेय है.

Tea Day कैसे मनाएं

अगर आप चाय दिवस मनाना चाहते हैं तो Tea पिए बिना कैसे बना सकते हैं!वास्तव में देखा जाए तो दुनिया में चाय की सैकड़ों किस्में है, जिनकी आप संभवतः कल्पना भी नहींं कर सकते. लेकिन फिर भी आप ऐसी अनोखी गरमा-गरम चाय की चुस्कियां लेकर इसके बारे में अधिक जानकारी निकाल सकते हैं और अपने दोस्तों एवंं परिवारजनों के साथ साझा कर सकते हैं.अंत में, चाय दिवस मनाने का इससे भी एक अच्छा और सटीक तरीका है. इसके लिए आप सीधे किचन में प्रवेश करें और खुद के लिए एक गरमा-गरम चाय का इंतजाम करें!

हमारा यह दिनविशेष पर आधारित लेख पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद! हम आपके लिए रोज ऐसही अच्छे लेख लेकर आते है. अगर आपको यह लेख पसंद आता है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों को इसे फॉरवर्ड करना ना भूले. साथ ही हमारी वेबसाइट को रोजाना भेंट दे.

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे. WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Comments are closed.