Press "Enter" to skip to content

२८ अप्रैल: सुपरहीरो दिवस (Superhero Day) दिनविशेष

दोस्तों आप जानते ही होंगे कि अपने जीवन में कोई भी नायक बन सकता है. बस उसे बाकी लोगों से अलग और अच्छा काम करने की जरूरत है! सुपरहीरो दिवस यही सिखाता है कि जो एक व्यक्ति को कुछ सरल काम करते हुए आश्वस्त कर सकें, ऐसे सभी लोग अपने जीवन में नायक हो सकते हैं. इसका मतलब है कि कोई छोटा लड़का भी अपने कंधों पर कोट लगाकर सुपरहीरो बन सकता है.

बशर्ते उसमें कोई काम करने की जिद होनी चाहिए.जब हम सुपरहीरो के बारे में सोचते हैं तो सामान्य रूप से हमारे मन में कोई आदमी या महिला आती है जो अक्सर कुछ चमकीले रंग का गैरिश पैटर्न वाला एक सूट और अनिवार्य रूप से बाहर की तरफ अंडरवियर पहने हुए हैं. लेकिन आपको यह ध्यान में रखना चाहिए कि दुनिया में अन्य प्रकार के सुपरहीरो भी है, जो फायरमैन या फिर पुलिस की वर्दी में हैं.

बहुत से सुपरहीरो एंबुलेंस या मेडीवेक हेलीकॉप्टर चलाते हैं, और कभी-कभी वे काम के लिए अपने माता-पिता के कपड़े भी पहनते हैं. सुपरहीरो दिवस हमें यही याद दिलाने की एक कोशिश है कि सुपरहीरो किसी भी आकार, रंग या किसी भी तरीके से आपके सामने आ सकता है और सुपर पावर की तुलना में सबको मदद करके लोगों के दिलों पर छा जाता है.

सुपरहीरो दिवस का इतिहास

Superhero दिवस पहली बार 1995 में मनाया गया. मार्वल कॉमिक्स के कर्मचारियों को लोग यह पूछने लगे कि सुपरपावर बनने के लिए क्या करना चाहिए. इसके परिणामस्वरूप लोग अपने जीवन में भी सुपर हीरो के बारे में बात कर रहे थे और अक्सर सामान्य रूप छोड़कर सुपरहीरो की तरह दिखने की कोशिश कर रहे थे.सुपरहीरो दिवस हमें याद दिलाता है कि अक्सर सभी सुपरहीरो वे रोजमर्रा के ही लोग होते हैं जो हर काम अभ्यास पूर्वक की करते हैं और अपने दैनिक जीवन में भी आदर्श निर्माण करते हैं.

Superhero दिवस कैसे मनाएं

सुपरहीरो दिवस मनाने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप हमेशा खुद के आंतरिक सुपरहीरो के संपर्क में रहें. उन लोगों के लिए हमेशा अपनी आंखें खुली रखें जिन्हें मदद की जरूरत है. ‘इन्हें कोई दूसरा मदद करेगा’ यह सोचना बंद कर खुद उन लोगों के मददगार बने. सुपर हीरो बनने की शुरुआत आप छोटे-छोटे काम से भी कर सकते हो. जैसे अपने दोपहर के भोजन को किसी ऐसे व्यक्ति के साथ साझा करें जो सड़क किनारे रहते हो, या फिर किसी अनजान को गाड़ी का टायर बदलने में मदद करें, किसी बेघर व्यक्ति को भोजन या कपड़े देकर उनकी मदद करें. यह सब काम करना मतलब किसी मददगार व्यक्ति की नजर में सुपरहीरो बनना ही होता है.

हमारा यह दिनविशेष पर आधारित लेख पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद! हम आपके लिए रोज ऐसेही अच्छे लेख लेकर आते है. अगर आपको यह लेख पसंद आता है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों को इसे फॉरवर्ड करना ना भूले. साथ ही हमारी वेबसाइट को रोजाना भेंट दे.

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे. WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Comments are closed.