असहाय भेड़िया (Stranded wolf) Hindi Story

दोस्तों आज हम एक नई कहानी के को पढ़ेंगे जिसका नाम है असहाय भेड़िया ..

एक शेर और एक भेड़िया जंगल में घूम रहे थे. अचानक उनके कान पर मेमनो की आवाज आई. मेमनो की आवाज सुनकर अपनी बढ़ाई मारते हुए भेड़िए ने कहा.

देखिए महाराज, आप चलते चलते बहुत थक गए होंगे. आप थोड़ी देर यहीं बैठें. मैं जाकर आपके लिए दो चार मेमने मारकर लता हूं. यह बात कहकर वो भेड़िया मेमनो की आवाज की और चला गया.

Status-Shayri-Questions-min

वहां जाते ही मेमनो का मालिक एवं दो चार जंगली कुत्ते भेड़िए को दिखाई दिए. उसी समय वह भेड़िया शेर के पास वापस आ गया. और शेर से भेड़िए ने कहा,” महाराज आप तो इस जंगल के राजा हो” और उधर जो मेमने खड़े है. वे काफी बीमार और पतले है. शायद उन मेमनो पर बीमारी फैली हो.

इतने सारे मेमनो में से एक भी मेमना ठीक नहीं है. इसलिए हमे दूसरी शिकार करनी चाहिए. वहीं हमारे लिए ठीक होगा.
शेर ने भी जंगली कुत्तों की आवाज सुनी थी. इसलिए शेर को भेड़िए की चालबाजी समझ में आ गई थी.

तात्पर्य:- अपनी असहायता छुपाने के लिए कुछ ना कुछ कारण आगे करना यह पशुओं का स्वभाव होता है.

हमारी कहानी को पूरा पढ़ने के लिए आपको धन्यवाद। हम आपके लिए रोज ऐसे ही मनपसंद कहानी लेकर आएंगे. अगर आपको कहानी पसंद आती है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर आपके दोस्तों के साथ इसे शेयर करना ना भूलें. साथ ही हमारी वेबसाइट को हर रोज भेंट दे.

? अनुवादक
योगेश बेलोकार
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया

Sending
User Review
0 (0 votes)

Subscribe to Channel
Shayari Sukun
Follow us on Pinterest