Press "Enter" to skip to content

१३ अप्रैल: स्क्रैबल दिवस (Scrabble Day) दिनविशेष

स्क्रैबल, यह एक ऐसा गेम है जो पूरी दुनिया में बड़ी रुचि के साथ खेला जाता है. यह प्रतिष्ठित बोर्ड गेम दुनिया में बहुत लोकप्रिय है और इसीलिए आज भी बड़े पैमाने पर इसे खेला जाता है. आप इस बात से इस खेल की लोकप्रियता का अंदाजा लगा सकते हैं इसे खेलने के लिए एक अलग से स्क्रैबल डे का दिन मनाया जाता है.
तो आइए आज हम जाने कि आखिर इस खेल की शुरुआत किसने की और यह खेल इतना लोकप्रिय कैसे हुआ.

स्क्रैबल डे का इतिहास

स्क्रैबल डे की शुरुआत वर्ष 1929 में महामंदी आने के बाद हुई, जब लोग रास्तों पर भूख और काम की तलाश में घूम रहे थे.
इन्हीं निराशाजनक परिस्थितियों में एक आउट ऑफ द वर्क आर्किटेक्ट अल्फ्रेड मॉशर बट्स ने इस खेल की तलाश की ताकि लोग अपने खाली समय में इस खेल को खेल कर खुद को आनंदी और आशावादी बना सके.

अल्फ्रेड खुद इस खेल के शौकीन होने की वजह से उसमें माहिर खिलाड़ी थे. उन्होंने यह स्कोरिंग खेल बनाने के लिए एक क्लासिक क्रॉस वर्ड पहेली का इस्तेमाल किया. इस खेल को पहले ‘लेसिको’ कहा जाता था. बाद में इसका नाम बदलकर ‘क्रिस क्रॉस वर्ड्स’ रखा गया. कई गेम निर्माता इसके सफलता प्राप्ति की बात को भली-भांति जानते हुए भी इसे बनाने का साहस नहीं जुटा सके.

लेकिन इसके बाद जेम्स ब्रूनेट ने इस खेल के नियमो में कुछ बदलाव किये और फिरसे एक बार इसका नया डिजाइन तैयार किया. हम कह सकते हैं कि तब जाकर ही इस खेल को सफलता प्राप्त होने की ओर सही दिशा मिल सकी.
वर्ष 1948 में इस खेल को ट्रेडमार्क प्राप्त हुआ और यह खेल अमेरिका के सबसे लोकप्रिय होने की राह पर चल पड़ा.
एक समय तो ऐसा था कि अमेरिका की हर एक गेम शो या फिर टीवी शो में इस खेल का नाम सबसे ऊपर था.

1984 में एनबीसी राष्ट्रीय टेलीविजन चैनल पर होस्ट चक वुलरी ने इसे बड़े पैमाने पर प्रसारित किया और इसकी शोभा बढ़ाई.
स्क्रैबल गेम का मतलब शब्दों को एक तरह से जोड़ना ही होता है. लोग अक्सर इसे अपने घरों में बैठकर ही खेलते हैं ताकि उनका समय अच्छे से बीत सके. यह दिवस इतिहास में मनाए जाने वाली सभी खेलों के दिवस के समान ही इस खेल को हमेशा खेलने की प्रेरणा लेकर ही मनाया जाना चाहिए.

Scrabble डे कैसे मनाएं

स्क्रैबल डे बनाने का सबसे आसान और कारीगर तरीका है कि अपने घर कोई स्क्रैबल डे पार्टी रखें और अपने सभी दोस्तों एवं परिजनों को बुलाएं. इस खेल में जो भी सबसे अधिक शब्द बनाकर जीतता है उसे प्रोत्साहन के तौर पर एक अच्छा सा थिसॉरस याने की मुफ़्त शब्दकोश भेंट देना चाहिए.
खेल में अपने घर के सभी बड़े, छोटे, भाई-बहन, माता-पिता, अपने परिजनों, अपने सहकर्मियों ई. को भी शामिल करके उनके शब्द संग्रह में बढ़ावा करने का उन्हें मौका दे सकते हैं.

इस खेल का अधिक आनंद उठाने के लिए आप स्क्रैबल कुकीज को भी साथ ले सकते हैं. खेल में आपके वर्ड प्ले का अच्छा होने के कारण आप उस में महारत हासिल कर सकते हैं. साथ ही मोबाइल ऐप पर भी इस गेम को खेलकर अपने शौक को पूरा कर सकते हैं.

कुल मिलाकर स्क्रैबल डे के अवसर पर आप नई तरह का खेल सीखकर सभी के जीवन में आनंद की घड़ी ला सकते हैं. साथ ही इस खेल को खेलने से आपके मन में सामूहिक भावना की सहज वृत्ति भी बहुत अच्छी तरह से काम कर सकती है.

हमारा यह दिनविशेष पर आधारित लेख पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद! हम आपके लिए रोज ऐसही अच्छे लेख लेकर आते है. अगर आपको यह लेख पसंद आता है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों को इसे फॉरवर्ड करना ना भूले. साथ ही हमारी वेबसाइट को रोजाना भेंट दे.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup को अवश्य लाइक करे. WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे