Press "Enter" to skip to content

पुलिस को मिला कोरोना वायरस से लड़ने का ब्रह्मास्त्र हेलमेट!

जी हाँ दोस्तों, आपने बिल्कुल सही पढ़ा. पुलिस को कोरोना से लड़ने का सबसे हाईटेक हथियार या यूं कहिए ब्रह्मास्त्र मिल चुका है. इस ब्रह्मास्त्र हेलमेट की मदद से पुलिस 200 लोगों की एक ही बार में कोरोना वायरस के चलते टेस्ट ले पायेंगी की उन्हें कोरोना से ख़तरा है या नहीं.

दरअसल यह हाईटेक डिटेक्टर और सेंसर से लैस एक हेलमेट का कमाल है, जिसे हाल ही में चीन ने डिजाइन किया है.

किसी ब्रह्मास्त्र से कम नहीं है यह हेलमेट

हर एक देश की पुलिस उस देश के नागरिकों की रक्षा के लिए रास्तों पर उतर आई है. हर गली, हर चौराहे पर पुलिस ने की हुई नाकाबंदी नजर आती है. हर जगह पुलिस अपील कर रही हैं, कि हम सब लोग घर पर रहें.जरा उन पुलिसवालों के बारे में भी सोचिए जो कोरोना की इस महामारी में अपनी और अपने परिवार की जान जोखिम में डालकर आपकी सुरक्षा कर रही है.
लेकिन अब इन्हीं पुलिस वालों की मदद के लिए एक खास हथियार का प्रबंध किया गया है. चीन के वैज्ञानिकों ने अब ऐसा अविष्कार किया है, जो अबतक हम सब सायन्स फिक्शन मुव्हीज में देखते थे.

यह दुनिया का अपने आप में सबसे अनूठा और सबसे स्मार्ट हेलमेट है जो पुलिस की कोरोना वायरस से बचने में मदद करेगा.

इस अति आधुनिक हेलमेट को चीन में विकसित किया गया और दुबई पुलिस ने हाल ही में इसे कोरोना से लड़ने के लिए अपना सबसे अहम हथियार बनाया. पुलिस को बस इतना करना है की इसे पहनकर किसी भी भीड़़ भाड़ वाली जगह पर जाना है. जहां हाईटेक हेलमेट अपना जलवा दिखानेेेे के लिए तुरंत तैयार हो जाता है.

आखिर कैसे काम करता है यह हेलमेट?

इस हेलमेट पर लगा ‘हेड ऑफ डिस्प्ले’ यानी कि काला कांच एक ही बार में 200 लोगों को एक साथ स्कैन करके किसी के भी शरीर के तापमान को दूर से ही वास्तविक समय अर्थात रियल टाइम में भाप सकता है यानी कि अगर आप के शरीर का तापमान 38 डिग्री से अधिक हुआ अर्थात आप को बुखार हैैै या नहीं इसका पूरा ब्योरा यह हेलमेट 5 मीटर की दूरी से ही बता देता है. इसका मतलब अब किसी को कोरोना है और वह भीड़भाड़ वाली जगह पर घूम रहा है, तो अब उसकी खैर नहीं. पुलिस की पैनी नजर तो पहले से ही थी, लेकिन अब स्मार्ट हेलमेट की मदद से दूर से ही आप पुलिस के रडार पर होंगे.

यहीं नहीं, यह स्मार्ट हेलमेट शरीर के तापमान की जांच के साथ-साथ फेस रिकग्निशन तकनीक और कार नंबर रिडिंग तकनीक अर्थात वाहन का रजिस्ट्रेशन पहचानने की सुविधा से भी लैस किया गया है.

इसकी मदद से पुलिस अधिकारी को निर्देश मिलता है की सामने से आती कार को पास करने की अनुमति दी जाए या नहीं. यह हेलमेट ऑटोमेटिक तकनीक से कार के नंबर प्लेट को रिकॉर्ड करता है और वाहन या चालक के बारे में कुछ भी संदिग्ध पता लगान के लिए तुरंत पुलिस रिकॉर्ड की जांच करता है.

Helmet के बारे में चीनी कम्पनियों की दावेदारी

चीनी समाचार एजेंसी चाइना सिन्हुआ न्यूज द्वारा पोस्ट किए गए एक वीडियो से पता चला है कि इस हेलमेट को पहले से ही चीन के शेन्ज़ेन में कोविड-19 बीमारी के प्रसार से लड़ने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है. यहां दिलचस्प बात है कि, यह हेलमेट बहुत सरल दिखता है और यह अनुमान लगाना कठिन है कि इसके अंदर एआई (Artificial intelligence-AI) आधारित कैमरे छुपे हुए हैं.

साथ ही एक अन्य चीनी कंपनी का दावा है कि इस हेलमेट की मदद से मास्क पहनने वाले लोगों की भी सफलतापूर्वक पहचान हो सकती है. इससे यह पता लग सकता है कि लोग कब मास्क पहन रहे हैं और कब नहीं.
इन सारी बातों के बीच यह तो तय है कि, जब दुनिया से कोरोना वायरस का नामोनिशान मिट जाएगा, तब यह हेलमेट आने वाले समय में पुलिस के लिए किसी ब्रह्मास्त्र से कम नहीं साबित होगा.

हमारा यह विशेष लेख पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद! हम आपके लिए रोज ऐसही अच्छे लेख लेकर आते है. अगर आपको यह लेख पसंद आता है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों को इसे फॉरवर्ड करना ना भूले. साथ ही हमारी वेबसाइट को रोजाना भेंट दें.

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे. WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

© संतोष साळवे
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया

Worth-to-Share
Learn more, spend less. Get top courses for as little as ₹ 455