18 Feb 2021: pluto day | प्लूटो दिवस

pluto day : दोस्तों आज 18 फरवरी के दिन हम सब pluto day | प्लूटो दिवस मनाएंगे. यदि आप भी सब की तरह सौर प्रणाली के लिए विकसित होते हुए उसकी जानकारी रखते हैं. और उन्हीं में से है जो अभी नौ ग्रह है ऐसा मानते हैं. तो आप थोड़ी सी भूल कर रहे हैं.

क्योंकि अब प्लूटो को हमारे सौर मंडल के ग्रहों में से एक ग्रह माना नहीं जाता है. अब हमारे सौरमंडल में सिर्फ 8 ग्रह है ऐसा माना जाता है और इस बात को पुष्टि दी गई है. अचानक एक दिवस सौरमंडल के सबसे दूर स्थित ग्रह को बताया गया कि वह अब हमारे ग्रहों की लिस्ट में नहीं होगा. और उसे अब ‘बौना ग्रह’ (dwarf planet) यह मान्यता मिल गई है. लेकिन आज भी ऐसे कई लोग हैं जो लोगों को हमारे ग्रहों की लिस्ट में एक हिस्सेदार मानते हैं.

क्योंकि जब 1930 में pluto को एक ग्रह के नाम से नामित किया था. और तभी से इसे जैसे हमारा एक निजी सदस्य या फिर एक दूर का दोस्त है कर ही माना गया है. लेकिन अब अंतरराष्ट्रीय पर के अनुसार अब हम pluto को हमारा सौरमंडल का दोस्त नहीं मान सकते हैं. लेकिन फिर भी चाहे जो भी हो जाए pluto हमारी ग्रह की श्रेणी से बाहर हो गया है लेकिन भौतिक रूप से नहीं.

pluto day ka itihas

pluto day | प्लूटो दिवस और हम आपको इस दिवस के इतिहास के बारे में अधिक जानकारी देना चाहते हैं. यू तो ऐसा माना जाता है कि pluto  की खोज 1840 में शुरू हुई थी. जब इसे यूरेनस के बाहर भी एक ग्रह है ऐसा माना जा रहा था. लेकिन तब कोई इस बात पर स्पष्ट नहीं था कि वह pluto ही है या नहीं.

और आखिरकार वह ग्रह नेपच्यून निकला और उसका नाम नेपच्यून रख दिया गया. लेकिन कुछ ऐसी ही तरीकों से नेपच्यून के साथ-साथ सूटों की भी खोज की गई थी. आपको पता ही होगा कि कुछ विषम कक्षाओं में यूरेनस घूमता रहता है. लेकिन उसके निकट और भी कई पड़ोसी थे जिसके कारण नेपच्यून की खोज की गई थी. और तभी उन्होंने महसूस किया कि कोई एक और ग्रह यूरेनस की कक्षा में उसे तोड़कर घूम रहा है जो नेप्चून था.

लेकिन इसके बाद भी एक अद्भुत प्लेनेट एक्स भी वहां पर घूम रहा था. जिसे पेरीवेल लॉयल के नेतृत्व में खोज किया गया था. लेकिन दुर्भाग्य से वह प्लूटो नहीं निकला. वह आकाश में इस प्लानेट एक्स की खोज में गहराई से सर्वेक्षण करने लगे. लेकिन pluto की खोज करने के लिए अब दायरा बढ़ गया था.

और इसी तरीके से 1930 के फरवरी में क्लाइड टॉम्बा इनके द्वारा प्लूटो की वास्तविक खोज हुई. लेकिन इतने सालों के बाद इसे खोजने पर अब इसे यह मान्यता मिली है कि यह बौना ग्रह कहा जा सकता है और कुछ नहीं. यह सोचकर ही शायद कई लोगों को और भी ज्यादा गुस्सा आ सकता है.

pluto day kaise manaye

pluto day | प्लूटो दिवस पर आइए इस दिवस को कैसे मनाए इसके बारे में अधिक जानकारी लें. इस दिवस को मनाने का सबसे अच्छा तरीका तो यही होगा कि आप खुद भी अपनी पसंदीदा दूरबीन लेकर रात में आकाश की ओर देखें. आपको कई सारे अनगिनत टिमटिमाते हुए तारे दिखेंगे.

और साथ ही आपके मन को प्रसन्नता भी होगी कि आप अपने व्यस्त जीवन में से कुछ समय निकालते हुए कोई अलग चीज कर रहे हैं. और आप जितने हो सके उतने ज्यादा से ज्यादा ग्रहों को ढूंढने की कोशिश करें. शायद आपको मंगल बुध और शुक्र जैसे ग्रह जल्द ही मिल जाएंगे. और अगर आपको इन ग्रहों को आकाश में चमचमाते हुए ढूंढने में परेशानी हो रही है तो आप किसी वेबसाइट की भी जरूर मदद ले सकते हैं.

ऐसी कई सारी दिलचस्प वेबसाइट है जिस पर हमारे सौरमंडल के ग्रहों के बारे में जानकारी और उनके सटीक लोकेशन के बारे में जानकारी दी गई है. और साथ ही अगर आपको उन्हें देखते हुए कोई तारों का नजारा या फिर तारामंडल भी दिख जाए तो आप उसे जरूर अपनी नोटबुक में लिख कर रखें. साथ ही आप अपने सारी रचनाओं को और फोटो को सोशल मीडिया पर #plutoday को टैग करते हुए भी जरूर मना सकते हैं.


हमारा यह pluto day पर लिखा हुआ लेख अगर आपको पसंद आया हूं और साथ ही आपने भी इस ग्रुप में अपनी दूरबीन से देखने का निश्चय कर लिया हो तो हमें नीचे comment box में comment करते हुए जरूर बताएं.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

pluto day

Leave a Comment