Press "Enter" to skip to content

11 Sept: patriot diwas | देशभक्त दिवस dinvishesh

patriot diwas :  आज 11 सितंबर के दिन हम patriot diwas अर्थात देशभक्त दिवस मनाने जा रहे हैं यह दिवस 11 सितंबर आमतौर पर 9/11 के रूप में भी जाना जाता है. इसी 11 सितंबर 2001 के यूएसए पर हुए बहुत ही प्रलयंकारी और भयानक आतंकवादी हमलों की सालगिरह के रूप में याद किया जाता है.

इस दिवस को अमेरिका के इतिहास में जैसे काला दिन माना जाता है. क्योंकि इस दिवस की याद से जैसे दुनिया भर के किसी भी देश के सच्चे नागरिक की आंखों में पानी आ जाएगा. तो आइए दिवस के बारे में आपको भी अधिक जानकारी जरूर लेनी चाहिए.

patriot diwas ke bare me adhik jankari

पैट्रियट दिवस की याद में हमें इसलिए इसे याद करना चाहिए, क्योंकि इसी दिन चार जेट विमानों का अपहरण कर लिया गया था. साथ ही न्यूयॉर्क वर्ल्ड ट्रेड सेंटर और वर्जीनिया के पेंटागन में दुर्घटना हो गई थी. यह दुर्घटना इतनी बड़ी थी जिसमें 2977 लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे थे.

चौथा हवाई जहाज जोकि यूनाइटेड एयरलाइंस फ्लाइट 93,  वाशिंगटन डीसी में निर्देशित किया गया था. लेकिन इसके पैसेंजर अर्थात यात्रियों ने बड़ी बहादुरी से इस पर नियंत्रण वापस लेने का प्रयास किया था. लेकिन यह शैंक्सविले, पेंसिलवेनिया के पास क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था.

न्यूयॉर्क में स्थित दुनिया में सबसे ऊंची twin-towers पर हमलों के बाद बहुत लोग उस मंजिल की ऊपरी हिस्से में काम कर रहे थे. जहां पर हवाई जहाजों ने बिल्डिंग से टकराव किया था. रोज की तरह कई सारे लोग अपने-अपने ऑफिसों में अपना दिया हुआ काम कर रहे थे.

लेकिन अचानक उन्होंने खुद को एक बड़े से जलती हुई गगनचुंबी इमारत की सबसे ऊंचे भाग पर फंसा हुआ पाया. और इसी वजह से उनमें से कई लोगों ने अपनी जान की परवाह न करते हुए गगनचुंबी इमारतों की मंजिलों पर लगी हुई आग में जलने के बजाए ऊपर से कूदने में ज्यादा अच्छा विकल्पबनाया.

उसी तरह से लोगों ने इस बड़ी इमारत इसकी भयानक और दिल दहला देने वाली कहानियां आपने जरूर देखी होगी है ना दोस्तों? वर्ल्ड ट्रेड सेंटर को टकराव के मद्देनजर आपातकालीन सेवाओं के भी कई बहादुर लोगों ने अपनी जान की परवाह किए बिना कई लोगों को बचाया था.

patriot diwas ka itihas

देशभक्त दिवस पर अमेरिकी कानून द्वारा दुखद घटनाओं के स्मरण के रूप में अधिकाधिक मान्यता प्राप्त हो गई है. और इसे हर साल मनाया जाता है. हर साल अमेरिकी झंडे को कर्मचारियों द्वारा आधा फहराया जाता है. और उनको खोए हुए लोगों को सम्मानित किया जाता है.

अमरीकी राष्ट्रपति भी 8:46 पर की ग्रुप में उन सभी देशभक्तों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं. यह घटना अमेरिका में हुई थी लेकिन पूरी दुनिया में इसका हाहाकार मच गया था. दुनिया भर में इसके शोक को साझा किया गया था. और इसी के कारण पेट्रियट दिवस न केवल अमेरिका में मनाया जाता है,  बल्कि पूरे विश्व में भी इसे मान्यता मिल गई है.

patriot diwas kaise manaye

इस दिवस को मनाने की आपके पास में कई प्रकार के तरीके हैं. जिससे आप इस दिवस को सम्मान के साथ मना सकते हैं. और साथ ही 11 सितंबर के दिन जिन्होंने अपने जीवन को खो दिया था ऐसे लोगों को याद कर सकते हैं. चाहे आप इसी के सोशल मीडिया पर एक अच्छा सा मैसेज भेज कर भी मना सकते हैं. ताकि आपके दोस्तों एवं परिवारजनों को इसके बारे में अधिक जानकारी मिल सके.

साथ ही अगर आप इस दिवस पर हुए हमलों के बारे में अधिक जानकारी नहीं जानते, तो आप इसे इंटरनेट पर सर्च करते हुए इसके बारे में वीडियो या फोटो देख सकते हैं. इस दिवस पर अल कायदा कुल 19 आतंकवादियों ने अपहरण की हुई चार हवाई जहाज अपने कब्जे में लिया था.

इसके बाद इन विमानों को लोअर मैनहैटन के क्षेत्र में खड़ी ट्विन टावर से टकराया था. यह विमान अमेरिका के एयरलाइंस 175 और एयरलाइंस की फ्लाइट थी. पूरी 1 घंटे और 42 मिनट के भीतर ही 110  मंजिलो की दोनों ही इमारतें पूरी तरह से आग की चपेट में आ गई थी. और उन्हीं आग की लपटों में वह दोनों ही इमारतें देखते ही देखते आंखों के सामने ध्वस्त हो गई थी.
इनमें से तीसरा विमान पेंटागन में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था.

यह अमेरिकन एयरलाइंस 77 का हवाई जहाज था. इसके परिणाम स्वरूप अमेरिका के रक्षा विभाग के मुख्य कार्यालय पेंटागन को क्षति पहुंच गई थी. चौथा विमान एयरलाइन 93  वॉशिंगटन डीसी की दिशा में उठाया गया था. लेकिन यात्रियों ने अपहरणकर्ताओं को अपनी उद्देश्य में नाकाम करते हुए वाशिंगटन में जाने से पहले ही रोक दिया. लेकिन विमान पेंसिलवेनिया में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. इस घटना पर बेहतरीन फिल्म भी बनी है.

जो है यूनाइटेड एयरलाइंस फ्लाइट 93. इस फिल्म में लोगों की प्रशंसा प्राप्त की और कई पुरस्कार भी जीते थे.11 सितंबर को शहीद होने वाले लोगों के सम्मान के लिए इस दिवस का उपयोग करना एक बहुत अच्छे विचार है. इसमें न केवल विमान में दुर्घटनाग्रस्त हुए लोग हैं बल्कि कई बहादुर पुरुष और महिलाओं को सम्मान देने की बात है. 

जिन्होंने अपने जीवन को खतरे में डालकर लोगों की मदद की थी. इस दिन 2977 लोगों का जीवन समाप्त हो गया और 6000 से अधिक घायल हो गए थे. इस देशभक्त दिवस पर हमें भी कुछ समय निकालकर इन लोगों के बारे में पढ़ना चाहिए और ये बात ध्यान रखना चाहिए कि हम इन्हें कभी भूल नहीं सकेंगे!

हमारा यह देश भक्त दिवस पर आधारित लेख अगर आपको पसंद आया हो और आप भी यह दिवस मनाना चाहते हो, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करते हुए हमें तो बताइए..


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *