Press "Enter" to skip to content

4 September: newspaper carrier diwas | समाचार पत्र वाहक दिवस

newspaper carrier diwas  :  दोस्तों आज 4 सितंबर को हम समाचार पत्र वाहक दिवस  मनाने जा रहे हैं. हर साल समाचार पत्र वाहक दिवस  4 सितंबर को होता है. संयुक्त राज्य अमेरिका में समाचार पत्र वाहक दिवस बड़े जश्न के साथ मनाया जाता है. और इस दिवस पर बार्नी फ्लेहर्टी को सम्मानित किया जाता है.

जो पहले समाचार वाहक या फिर पेपरब्वॉय के रूप में 1833 में नियुक्त किए गए थे. और साथ ही सभी वर्तमान समाचार पत्र के वाहक भी थे. इस दिवस न्यूयॉर्क के प्रकाशक बेंजामिन डे इनकी सालगिरह मनाते है. साथ ही यह दिवस आर्मीडेल एक्सप्रेस, एनएसडब्ल्यू, ऑस्ट्रेलिया द्वारा भी मनाया जाता है.

जैसे कि आप जानते हैं, समाचार पत्र वाहन अर्थात वितरण यह समाचार के प्रचार के अंतिम चरण होता है. जिसमें किसी भी समाचार पत्र को आपने वाचक अर्थात लोगों तक पहुंचाया जाता है. और साथ ही और लोगों के द्वारा वितरित किया जाता है. तो उसके प्रति मालिक होते हैं.

समाचार पत्रों को वितरित करने का तरीका किसी भी अनुकूल स्थान पर भी होता है. न्यूज़बॉय अर्थात समाचार पत्र वाहक किसी भी समाचार स्टैंड पर या फिर वेंडिंग मशीन पर समाचार पत्रों को बेच रहा होता है. लेकिन अखबार वितरण आमतौर पर नियमित रूप से ग्राहक को पेपर देने के संदर्भ में होता है.

newspaper carrier diwas : interesting things

अखबार के विज्ञापन के लाभ बहुत से होते हैं. जिनके बारे में आप तो जानते ही होंगे. जैसे कि यह अन्य चैनल या फिर किसी भी मीडिया से तुलना में सस्ता होता है. इसे दोहराने के लिए जोखिम अत्यंत प्रभावी होती है. यह एक महान स्थानीय बाजार में प्रवेश और लचीलापन प्रदान करता है. साथ ही उपभोक्ता की खरीदारी में मदद करते हैं, ताकि वह निर्णय ले सकें.

लेकिन अखबार के विज्ञापन के बारे में कुछ तथ्य भी होते हैं, जो शायद आप नहीं जानते तो आइए उनके बारे में कुछ जानकारी लें.
1.   समाचार पत्रों का उद्योग बहुत तेजी से विकसित हो रहा है. न्यूज़पेपर एसोसिएशन ऑफ अमेरिका (NAA) का data बता रहा हैं कि अमेरिकी अखबारों अच्छे दिन विकास के लाभ उठाते हुए महत्वपूर्ण तरीकों से आने वाले हैं.
2.   समाचार पत्रों में सबसे ज्यादा पहुंच होती है. जिनमें लगभग 105 मिलियन लोग सप्ताह के किसी भी दिन पर ऑनलाइन या फिर प्रिंट में अखबार पढ़ते हैं. और रविवार के दिन तो 110 मिलियन से भी अधिक वयस्क इसे पढ़ते हैं.
3.   अत्यधिक संपूर्ण उपभोक्ताओं को संलग्न करने के लिए विज्ञापन देखकर सभी का ध्यान डिजिटल मीडिया के बावजूद भी अन्य मीडिया चैनल की तुलना में संलग्न होने की संभावना होती है.
4.   मिलेनियल्स लोग डिजिटल प्रिंट पर ही भरोसा करते हैं. जी हां आपने बहुत ठीक पढा. क्योंकि इसके स्वरूप के साथ उपभोक्ता अपने मोबाइल उपकरणों के साथ ही स्वरूप से जुड़ते हैं. वास्तव में उन्हें समाचार पत्र को ओपन और सौदों के लिए मुख्य स्रोत के रूप में छापते हैं.
5.   समाचार पत्र पर ड्राइवर एक्शन भी लिए जा सकते हैं. अखबार को देखने के बाद 81%  वयस्क है. कुछ प्रकार की कार्यवाही की है. जिसमें क्लिप करना, उस टूर पर जाना और वास्तविक खरीदारी भी की हुई मिलती है.

newspaper carrier diwas ka itihas

समाचार पत्र वाहक दिवस इस दिवस पर जो अखबार का आविष्कार हुआ है, तभी से अखबार के वाहक बन गए हैं. समाचार पत्रकार दिवस पर हम उन सभी लोगों को अधिक सम्मान देना चाहते हैं. जो इस दुनिया को अपने जीवन के साथ साथ अपना समर्पण भी साझा करते हैं. न्यूयॉर्क शहर के संग्रहालय द्वारा संयुक्त राज्य अमेरिका में रखे गए पहले न्यूज़ बॉय को सम्मानित करने का प्रयास करने के लिए ही यह समाचार पत्र वाहक दिवस बनाया गया था.

इसी प्रकार 1833 इंग्लिश में 10 वर्षीय फ्लेहर्टी सबसे पहले द सन पेपर के लिए विज्ञापन का जवाब दिया था. और इसी वजह से उन्होंने न्यूज़ पेपर का भार अपने सर पर ले लिया था. उस विज्ञापन में कहा गया था कि उन्हें स्थिर पुरुष अर्थात स्टडी मैन चाहिए थे. बेंजामिन डे उन्होंने फैसला किया था,  और उन्होंने उसे अपने पेपर को लेकर जाने के लिए कहा और बिग एप्पल की सड़कों पर पहली बार जोर से कॉल आउट गया था.

180 साल के बाद भी आज न्यूज़ पेपर कैरियर दिवस उन सभी निडर आत्माओं को जश्न के साथ मनाते हुए उनके नक्शे कदम पर चलना चाहता है. उन सभी लोगों को उनके बारे में सोचना आश्चर्यजनक होता है. जो इस कैरियर के द्वारा युवा लड़कों के उत्थान के लिए समाचार पत्र वाहक की नवीनतम पीढ़ी को अपवाद नहीं देते हैं.  जेम्स कॉग्नि,  अल्बर्ट आइंस्टीन, और मार्टिन लूथर किंग ने भी अपनी जीवन की शुरुआत अपने स्थानीय लोकल पेपर को बेचकर ही की थी.

अभी पहली नौकरी के रूप में भी कार्य करता है. साथ ही कई महिलाएं अपने स्थानी समुदायों के लिए अपनी गाड़ी का उपयोग करते हुए अपने आस-पड़ोस के लोगों को समाचार पत्र पहुंचाने के लिए जाती हैं. या किसी एक समाचार पत्र का वाहक हाल ऑफ फेम भी हुआ है. जो 1960 की इतिहास में सबसे प्रसिद्ध समाचार पत्र के वाहक के रूप में स्वीकार करते हुए बनाया गया था. इसमें वॉरेन बफर और जॉन वेन की पसंद भी शामिल हुई है.

newspaper carrier diwas kaise manaye

समाचार पत्र वाहक दिवस को मनाने का सबसे अच्छा तरीका यही होगा कि आप अपने समाचार पत्र वाहक या फिर पेपरब्वॉय को तहे दिल से धन्यवाद दें. आप चाहे तो उन्हेंं और भी खुश कर सकते हैं. जिसमें आप उनके हाथ में पानी का ग्लास देकर उन्हें अपने घर में बुला सकते हैं. और साथ ही गर्म चाय कप देकर उनके दौरे के बारे में भी जानकारी ले सकते हैं.

आप उनकी सेवा देने के लिए उन्हें धन्यवाद जरूर दें. याद रखिए यह लोग, चाहे वह लड़का हो या लड़की, पुरुष हो या महिला, यह सभी ठंडी और गर्मी के किसी भी हाल में, अपने काम को अंजाम देते हैं. और साथ ही सबसे पहले आपके घर सवेरे का दैनिक समाचार लाने के लिए तत्पर रहते हैं. और इन से आपको प्यार करना चाहिए.

ताकि यह आपको हर रोज अपनी सेवा प्रदान करते रहें. साथ ही आप  #newspapercarrierday   साथ दिवस को मनाते हुए इन समाचार पत्र वाहक दिवस को मना सकते हैं. और साथ ही आप अपने दोस्तों एवं परिवार के साथ भी इस दिवस का उत्साह साझा कर सकते हैं. ताकि वह भी अपने घर आने वाले सभी समाचार पत्र वाहक लोगों का सम्मान कर सकें.

हमारा यह समाचार पत्र वाहक दिवस पर आधारित लेख अगर आपको बहुत पसंद आया हो और आप भी इन समाचार पत्र वाहक लोगों का सम्मान करना चाहते हैं, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करते हुए हमें जरूर बताएं!


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *