11 Jan 2021: milk day | दूध दिवस

milk day : आईये दोस्तों, आज 11 जनवरी के दिन हम milk day | दूध दिवस मनाने जा रहे हैं. आपको पता होगा कि आमतौर पर ऐसा कहा जाता है कि दूध दिवस को पहली बार पीने वाले लोगों की वजह से ही मनाया जाता है. लेकिन ऐसा कुछ नहीं है. क्योंकि जब से दूध को कांच की बोतलों में वितरित करने का मार्ग खोजा गया था तभी से शायद इसे मनाया जाने लगा.

क्योंकि उससे पहले दूध वितरण करने की कोई ठोस व्यवस्था नहीं थी. लेकिन हालांकि इन सभी पहलुओं को ही एक समर्पित होने वाला दूध दिवस जरूर मनाया जाता है. और सभी लोग जानते हैं कि कृषि उद्योग और किसानों के माध्यम से ही हमारे दूध का सप्लाई हमेशा होता है. इस दिवस पर कई तरह के बच्चों को दूध पीने के लिए प्रोत्साहित किया जाना ही चाहिए.

ताकि वे बचपन से ही दूध पीने की आदत अपना लें. हालांकि उन्हें यह पता नहीं होता है कि दूध पिना उनकी सेहत के लिए कितना फायदेमंद होता है. और इसी वजह से यह उनके माता पिता एवं घर के बड़ों की जिम्मेदारी हो जाती है कि उन्हें इस बात से अवगत कराएं. साथ ही आप इस बारे में भी जानते होंगे कि दूध का उपयोग सिर्फ पीने के लिए ही नहीं होता है. बल्कि दूर से कई तरह के खाद्य पदार्थ भी बनाए जा सकते हैं. उदाहरण के लिए हम देखे तो पनीर, दही, छाछ और इसी तरह के कई स्थानीय डेयरी उत्पाद भी बनाए जाते हैं.


milk day ka itihas

दूध दिवस पर हम आपको इस दिवस के बारे में जानकारी देना चाहते हैं. हालांकि USA में 11 जनवरी के दिन ही राष्ट्रीय दूध दिवस मनाया जाता है. इस दिवस पर न्यूयॉर्क डेरी कंपनी के अलेक्जेंडर कैंपबेल ने यह बात कही थी कि उनकी कंपनी ने ही 1878 में इसका उत्पाद शुरू किया था.

और साथ ही आपको यह भी बात पता होगी कि आस्ट्रेलिया और संयुक्त राज्य अमेरिका यह दोनों देश ही किसी भी अन्य देशों की तुलना में सबसे ज्यादा दूध और उसके उत्पादों का निर्यात करते हैं. और इन्हीं उत्पादों में कुछ ऐसे भी उस्ताद होते हैं जिनमें मक्खन, आइसक्रीम, दूध पाउडर, पनीर जैसे उत्पाद भी होते हैं. और हम आपको यह भी जानकारी बताना चाहते हैं कि पूरी दुनिया में 6 बिलियन से भी अधिक लोग हैं जो दूध और इस से बने उत्पादों का लुफ्त उठाते हैं.

क्योंकि आपको पता होगा कि दूध में ही सबसे ज्यादा कैल्शियम विटामिन B12 विटामिन ए पोटेशियम जैसे कई पोषक तत्व होते हैं. हांलाकि यह सब अच्छा होते हुए भी मध्ययुग में इसी दूध को सफेद शराब के रूप में माना जाता था. इसके बाद फ्रांसीसी रसायन तज्ञ और जीव विज्ञानी लुइ पाश्चर ने 1863 में दूध और उससे बने खाद्य पदार्थों को अधिक दिवस तक संग्रहित करने के लिए एक प्रयोग किया. उन्होंने दूध में मिलने वाले हानिकारक जीवाणुओं को मारने की एक तरकीब ढूंढ निकाली. और उसी विधि को पाश्चराइजेशन कहा जाने लगा.

milk day kaise manaye

दूध दिवस पर आपको इस दिवस को किस तरह से नहाना है इसके बारे में जानकारी जरूर लेनी चाहिए. आपको पता ही होगा कि सभी स्तनधारी मादाएं अपने बच्चों को दूध पिला सकती है. लेकिन फिर भी गाय के दूध का व्यवसायिक स्तर पर उत्पादन होता है. इस दिवस के उत्सव का जश्न मनाने के लिए आप बस एक बड़ा गिलास दूध लीजिए.

और इसमें आपकी पसंदीदा पाउडर भी मिला सकते हैं. या फिर आप दूध से बनाई गई किसी भी चीज को सेवन करते हो या फिर मिल्कशेक लेते हुए भी इस दिवस को अच्छी तरह से मना सकते हैं. क्या आपको दूध से बना हुआ चॉकलेट स्ट्रौबरी जैसा कोई उत्पाद पसंद है? अगर हां तो फिर आप इसका भी स्वाद चख सकते हैं.

और साथ ही अपने घर पर ही बनाई गई होममेड चॉकलेट खाने के लिए अपने दोस्त एवं रिश्तेदारों को भी आप आमंत्रित कर सकते हैं. और साथ ही आप #milkday को टैग करते हुए इसे सोशल मीडिया पर मनाना ना भूलिए.

हमारा यह दूध दिवस पर आधारित लेख आपको पसंद आया हो और आपने भी इस दिवस पर बढ़िया सा पूरा गिलास भर दूध पीने का निश्चय कर लिया हो, तो हमें कमेंट सेक्शन में बताना ना भूलिए.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

milk day

Leave a Comment