Press "Enter" to skip to content

१८ मई: संग्रहालय दिवस (Museum Day) दिनविशेष

हमारी दुनिया में कुछ ऐसी जगह भी है जो संग्रहालय के बारे में ज्यादा उत्सुक भी है और शिक्षित भी है. आखिरकार हम वास्तविक इतिहास के इन सारे टुकड़ों को देखने की उम्मीद कहां से कर सकते हैं, जो हमारे पूर्वजों के बारे में इतनी सारी कहानियां बताते हैं.

प्रागैतिहासिक भाले लेकर मिस्र की ममीयो तक, प्राचीन ग्रीक मूर्तियों से लेकर मध्यकालीन कवच तक और पहले रेडियो से लेकर पहले जागतिक महायुद्ध तक यहां संग्रहालय में यह सब होता है. दुर्भाग्य से लाखों लोगों के लिए संग्रहालय होता है, मगर कभी एक बार भी किसी संग्रहालय न जाने वालों की संख्या भी बहुत बड़ी है.

इसके कई संभावित कारण है. शायद इन लोगों को लगता है कि बस पुरानी चीजों को देखना बहुत ही उबाऊ होगा. या शायद वे इस बात से अनजान है कि दुनिया अतीत में कितनी अलग थी और उसकी रुचि लेने का कोई कारण नहीं है. संग्रहालय दिवस अपने सबसे आकर्षक रूप में शिक्षा के निवेश में करने का समय है.

बहुत से लोग हैं जो यह पूछ सकते हैं कि वे संग्रहालय दिवस में क्यों निवेश करें, जबकि उनके पास आधुनिक तकनीक अर्थात Modern Technology के सभी मार्ग उपलब्ध है, तो उन्हें इसका एक ही जवाब है कि इस बारे में आप बस थोड़ा सा गूगल सर्च कीजिए.

आजकल आपको किसी चीज का उत्तर खोजने की जरूरत होती है, तो आप निश्चित रूप से ऑनलाइन सर्च करते हैं, सही है ना? लेकिन आपको जो महसूस करने की जरूरत है यह उत्तर आपको वहां ढूंढना संभवतः गलत होगा.

सच बात तो यह है कि इस बारे में आपकी शिक्षा बहुत महत्वपूर्ण है, इसलिए आप सोच सकते है की खुद को और अपने युवाओं को उत्साहित करने के लिए संग्रहालय दिवस की तरह कुछ दिन और भी होने चाहिए.

इसके बाद जबकि बच्चे अपने सिर में कुछ बकवास बातें भर देते हैं, इसके बजाय उन बच्चों को कुछ ज्ञान की और भलाई की बातें सीखाना आवश्यक है और यह उनकी क्षमता होती भी है. बस वे इस क्षमता को नहीं पहचानते या उसमें भूल करते हैं.

संग्रहालय दिवस का इतिहास

अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय दिवस अर्थात International Museum Day मनाने की शुरूवात 1977 में International Council Of Museum (ICOM) द्वारा हुई थी. इस दिन को मनाने के लिए एक अलग विषय और साल संबंधित करता है कि कुछ विषयों में वैश्वीकरण, स्वदेशी लोग, सांस्कृतिक अंतराल और पर्यावरण की देखभाल करना भी शामिल है.

हर साल दुनिया भर के सभी संग्रहालयों को इस दिन को मनाने में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाता है, साथ ही दुनिया भर के संग्रहालयों की भूमिका को बढ़ावा दिया जा सके और अपने आसपास सुखद और मुक्त गतिविधियों का आयोजन भी किया जा सके, ताकी लोग इसके बारे में और अधिक जानकारी ले और आनंद पाएं.

अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय दिवस अपने निर्माण के बाद से लगातार अधिक लोकप्रिय होता गया है. 2009 में इस दिन में 90 से अधिक देशों के 20000 संग्रहालय द्वारा भाग लिया था, जबकि 2012 में 129 देशों में भाग लेने वाले संग्रहालयों की संख्या करीब 30,000 तक हो गई थी.

Museum Day कैसे मनाएं

संग्रहालय दिवस मनाने के लिए आप बहुत अच्छा उपाय ढूंढ सकते हैं, जिसमें किसी संग्रहालय को भेंट देने के लिए आप या तो अकेले, या अपने दोस्तों के साथ, या फिर अपने परिवार और बच्चों के साथ भी जा सकते हैं.

अगर आपको लगे कि यह आपके आसपास संग्रहालय काफी पुराना है, तो आप वहां हर बार जा सकते हैं. इनमें खेती से लेकर फैशन तक, खगोल विज्ञान से लेकर पुरातत्व विभाग तक, कला से लेकर प्राकृतिक इतिहास तक किसी भी क्षेत्र से संग्रहालय जुड़ा हो सकता है और यदि आपके आसपास के क्षेत्र में ऐसा कोई संग्रहालय नहीं है, तो बेहतर होगा कि आप किसी पास के शहर में भी एक दिन की यात्रा पर विचार कर सकते हैं, ताकि आपके और आपके बच्चों के ज्ञान में हमेशा बढ़ोतरी होती रहें.

हमारा यह ‘संग्रहालय दिवस’ पर आधारित दिनविशेष का लेख पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद! हम आपके लिए रोज ऐसेही अच्छे लेख लेकर आते है. अगर आपको यह लेख पसंद आता है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों को इसे फॉरवर्ड करना ना भूले. साथ ही हमारी वेबसाइट को रोजाना भेंट दे. 

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेजलाइक करे.

WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे
Worth-to-Share

Comments are closed.