Press "Enter" to skip to content

29 July: international tiger divas | अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस

international tiger divas : दोस्तों आज हम अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस के बारे में अधिक जानकारी लेंगे. जैसा कि आपको पता है कि बाद भारत का राष्ट्रीय प्राणी है. यह शानदार प्राणी दुनिया की सबसे बड़ी बिल्लियों में से एक है. और अपने विशिष्ट नारंगी और काले रंग की धारियों के लिए जाना जाता है. इसके खूबसूरती से अंकित चेहरे को पहचानने के लिए अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस इसके लिए समर्पित किया गया है.


international tiger divas ke bare me adhik jalkari


अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस दुनिया भर के लोगों में बाघ के संरक्षण के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए बनाया गया है. इस दिन का उद्देश्य एक विश्वव्यापी प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करना है.जिससे हम बाघों को उनके प्राकृतिक आवासों की रक्षा के लिए समर्पित कर सकें. हम बाघों के संरक्षण के मुद्दों का समर्थन करने के लिए और उनमें जागरूकता बढ़ाने के लिए इस दिन का हमेशा उपयोग कर सकते हैं. आखिरकार लोगों को जब किसी चीज के बारे में पता चलता है, तभी वे उसके लिए मदद करने के लिए अधिक इच्छुक होते हैं. और इसीलिए अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस का महत्व बहुत ज्यादा है. ऐसे कई अलग-अलग कारण है जिसके चलते दुनिया भर में बाघों में के विलुप्त होने की संख्या बढ़ती जा रही है. 

हमें यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी पूरी कोशिश करनी है कि इस अविश्वसनीय प्राणी को हम कभी ना खोए.दुनिया भर में बाघों की संख्या कम होने का एक और चिंताजनक कारण है, उनकी अवैध व्यापार होना. बाघों के लिए यह बहुत बड़ा खतरा है. जिससे जंगली बाघों का सामना हमेशा होता रहता है. बाघ की हड्डी, खाल और शरीर के अन्य हिस्सों की मांग उनकी शिकार और तस्करी करने के लिए उकसाती है. इसी के परिणाम स्वरूप बाघों की स्थानीय प्रजातियां विलुप्त होती जा रही है.वास्तव में देखा जाए तो पूरी दुनिया में लगभग 7% ही बाघ अभी बरकरार है. यह एक बहुत छोटी और चिंताजनक हर राशि है. इसी से हमें यह पता चलता है कि बाघों के बीच संघर्ष की संख्या भी बढ़ती चली जा रही है.


international tiger divas ka itihas

अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस पहली बार 2010 में मनाया गया था. इसे एक अंतरराष्ट्रीय शिखर सम्मेलन में स्थापित किया गया. जिसमें बताया गया था कि सभी जंगली बाघों में से 97% सिर्फ पिछली सदी में ही गायब हो गए थे. और केवल तीन हजार के आसपास ही जीवित बचे थे. बाघ हमारी दुनिया से विलुप्त होने की कगार पर है. अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस तथ्य पर ध्यान देकर उनकी गिरावट रोकने के लिए तैयार किया गया है. बाघों के निवास स्थान की हानियां, जलवायु परिवर्तन (global warming), अवैध शिकार जैसे कई कारणों की वजह से दुनिया में इनका निवास लगभग खत्म होने की कगार पर है. अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस मनाने के लिए कई अंतरराष्ट्रीय संगठन भी शामिल हैं. जिनमें WWF, IFAW और Smithsonian institute भी शामिल है.


international tiger divas kaise manaye

बीसवीं सदी की शुरुआत के बाद लगभग 95% की गिरावट जंगली बाघों की आबादी में आई थी. अभी लगभग 3900 जंगली बाघ जिंदा होने का अनुमान है.आपको पता होगा कि बाघ की प्रत्येक धारियों का एक अनोखा सेट होता है. जोकि मानव की फिंगर प्रिंटर की तरह ही काम करता है. यह हमें जंगल में सब बाघों को अलग-अलग पहचानने में मदद करता है.WWF जिस तरह से इन अद्भुत जानवरों की रक्षा करने के लिए प्रयास कर रहे हैं. उनकी मदद करने के लिए किसी बाघ पुस्तकों अपना सकते हैं. 

आजकल बहुत से लोगों को बाघ के बारे में और उनके खतरों के बारे में कोई जानकारी नहीं है. इसीलिए आप लोगों को यह ज्ञान पहुंचाने की जरूर कोशिश कर सकते हैं. और ये सबको बता सकते हैं कि बाघ हमारे भविष्य के लिए कितने जरूरी है.साथ ही आप इस अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस पर बाघों के लिए कुछ इकट्ठा किया हुआ धन, दान के लिए जुटा सकते हैं. साथ ही आप यह सुनिश्चित कर लें की सोशल मीडिया पर आपके मित्र, अनुयायी और साथ ही सभी परिवार के सदस्य इनके सामने आए हुए विभिन्न खतरों से अवगत है.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *