Press "Enter" to skip to content

IKIGAI क्या होता है? – IKIGAI kya hota hai? – Part 1

IKIGAI क्या होता है?: दोस्तों, आज हम “IKIGAI– एक लंबे और खुशहाल जीवन का जापानी रहस्य”. इस जापानी किताब के सारांश के भाग -1 के बारे में जानेंगे. इस किताब के लेखक हेक्टर गार्सिया (Hector Garcia) और फ्रांसेस्क मिरालेस (Francesc Miralles) हैैं.

IKIGAI का क्या अर्थ है? IKIGAI ka arth kya hai?

इकीगाई का अर्थ है- ‘सुबह उठने की वजह’. आसान भाषा में कहें तो उसे ‘जीवन का आनंद लेने की वजह’. या फिर ‘जीवन का उद्देश्य’ भी कहा जा सकता है. जापानियों के अनुसार उनके देश में हर एक व्यक्ति इकिगाई (IKIGAI) होती है.

जापान में ‘ओकीनावा’ नामक Island अर्थात द्वीप पर रहने वाले लोग 100 साल की उम्र से भी ज्यादा जीते हैं. और वहां 80 से 90 साल की उम्र वाले लोग भी हर रोज खुशी-खुशी उठकर अपना रोज का काम करते हैं. और मरते दम तक रिटायर होने का नाम नहीं लेते. याने की पूरी दुनिया में सबसे लंबी, अच्छी और खुशहाल जिंदगी जापान के ओकीनावा में रहने वाले लोग ही जीते हैं. क्योंकि वे लोग एक फॉर्मूला का उपयोग करके अपनी जिंदगी जीते हैं जिसका नाम है IKIGAI अर्थात- ‘जीने की वजह’. 

आखिर क्या है यह फॉर्मूला? IKIGAI ka formula kya hai?

जापानी लोग मानते हैं कि आप किसी ना किसी खास मकसद के लिए ही इस दुनिया में आए हो. और वह मकसद ही आपका IKIGAI होता है. अगर आप IKIGAI अर्थात आपके मकसद के अलावा कोई भी काम करते हो, तो आपको अपनी जिंदगी जीने में कुछ भी मजा नहीं आएगा. आप हमेशा तनाव में रहेंगे.

आपका दिमाग हर वक्त आपके मक़सद की तलाश मेंं ही लगा रहेगा. लेकिन अच्छी बात यह है कि इस दुनिया मेंं कहीं पर भी रहने वाला इंसान. इस जापानी फॉर्मूला का इस्तेमाल करके अपने IKIGAI याने की अपने जीवन के मकसद को ढूंढ सकता है. 

जब भी आप अपना कॉलेज खत्म करके बाहर काम करने जाते हो, तब आपको एक बड़ा निर्णय लेना पड़ता है कि कोई भी यही पुछेगा की अब आपकी जिंदगी में क्या करने वाले हो. यह निर्णय लेना बहुत महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि आपकी जिंदगी का सबसे ज्यादा वक्त आप इसी काम को करते समय निकालते हैं. इसलिए लोग आपको कुल 4 विकल्पों में बांट देते है. 

ये हैं चार वे महत्वपूर्ण विकल्प: IKIGAI ke chaar vikalp

1.  कोई आपको कहेगा कि जो काम आपको पसंद हो बस वही काम करें करो.
2.  कोई कहेगा तुम जिस काम में अच्छे हो वही काम करो. 
3.  कोई कहेगा जिस काम में सबसे ज्यादा पैसे मिले वही करो.
4.  या फिर कोई कहेगा कि तुम ऐसा काम करो जिसकी दुनिया को सबसे ज्यादा जरूरत हो.

अब इन परिस्थितियों में समस्या यही है कि हमें इन्हीं चार विकल्पों में से किसी एक को चुनना पड़ता है. जो एक बहुत गलत सलाह हो सकती है. IKIGAI इन चारों विकल्प का मेल है. अगर इनमें से कोई एक अंश भी आप भूल गये, तो आपने आपके जिंदगी में बहुत बडी समस्याएं आ सकती है. हम उदाहरण के द्वारा इसे देखेंगे.

1. Passion: 

जो काम आपको करना पसंद है और उसमें आप अच्छी भी होंगे तो वह काम आपका Passion होगा. मतलब अगर आपको नई चीजें सीख कर अच्छी तरह की प्रोग्रामिंग करना पसंद है. और उस काम में अगर आप अच्छे भी हो, तो प्रोग्रामिंग करना ही आपका Passion हो सकता है.

2. Profession: 

जिस काम में आप अच्छे हो और उसके बदले में आपको पैसे भी मिलेंगे तो वह काम आप का Profession बन सकता है. मतलब कुछ नया सीख कर अगर आपने एक ऐप बनाई, जिसके आपको थोड़े बहुत पैसे भी मिलने लगेंगे, तोवह काम आप का Profession हो सकता है.

3. Vocation: 

जिस चीज के बदले में आपको पैसे मिलेंगे और उसी चीज की दुनिया को जरूरत भी हो. तो वह काम आपका Vocation हो सकता है. मतलब आपने बनाई हुई ऐप दुनिया को बहुत जरूरतमंद है और आपको उसके पैसे भी मिल रहे हो, तो वह है आपका Vocation है.

4.  Mission: 

जो चीज की दुनिया को जरूरत हो और वही आपका पसंदीदा काम हो, तो वह काम करने का कारण ही आपका Mission बन जाएगा. मतलब जिस ऐप की दुनिया को जरूरत है उस पर ही काम करना आपको बहुत पसंद था, तो आपकी पसंद और दुनिया की जरूरत आपका Mission बन जाएगा.

आशा है आपको “IKIGAI- एक लंबे और खुशहाल जीवन का जापानी रहस्य“. इस लेख का पहला भाग बहुत पसंद आया होगा. इस लेख का अगला और आखरी भाग हम बहुत जल्द प्रसारित करेंगे, तो हमारे साथ जुड़े रहें और अपने दोस्तों के साथ इसे जरूर शेयर करें.

✍🏼 संतोष साळवे
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Comments are closed.