20 Dec: Games Day | खेल दिवस

Games Day

games day : आईये दोस्तों, आज 20 दिसंबर के दिन हम games day | खेल दिवस मनाने जा रहे हैं. आपको पता ही होगा कि आप को सबसे ज्यादा मजा बोर्ड गेम्स, कार्ड गेम्स या फिर कोई वीडियो गेम तो जरूर खेलने में आता होगा. लेकिन आपको एक बात जरूर बताएं कि जो भी आप गेम खेलते हैं इसमें आपको बदलाव अगर किए तो आपको बहुत मजा आएगा.

और आपको यह भी ज्ञात होगा कि सभी लोग जैसे डॉक्टर लोग भी आपको हर दिन कुछ खेल खेलने के लिए कहते हैं. क्योंकि खेल खेलने से आपकी तबीयत अच्छी रहती है. और साथ ही आप जिंदगी में आने वाले रोजमर्रा के कई तनाव से खुद को बेहतर महसूस कर सकते हैं.

और यह बात तो दुनिया के सभी पीढ़ी के लोग मान्य करते हैं कि गेम खेलना या फिर अपने दोस्तों के साथ कहीं बाहर घूमने जाना यह कितना अच्छा और आसान विकल्प होता है. और यही एक मात्र साधन होता है जिससे आप खुद को तंदुरुस्त बना सकते हैं और साथ ही अपने परिवार के साथ अच्छा समय भी दे सकते हैं. तो आइए इस दिवस के बारे में हम अब अधिक जानकारी लें.

games day ke bare me adhik jankari

खेल दिवस का एक कनविक्शन होता है जिसे हम हर साल मनाते हैं. इसमें आपको कई तरह के गेम्स वर्कशॉप को इवेंट्स स्पॉन्सर करना होता है. आपको पता होगा कि यह 1975 से चलता आ रहा है. और साथ ही आपको हम यह बताना चाहते हैं कि यह सम्मेलन ब्रिटेन की बर्मिंघम में होता है.

लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपको बर्मिंघम ही जाकर इस सम्मेलन में भाग लेना होगा. दुनिया के किसी भी कोने से आप इसमें भाग ले सकते हैं. और साथ ही आप अपना मनपसंद आखिर भी इसने खेल सकते हैं. क्योंकि यह दिवस ही किसी भी तरह के खेल का सम्मान करने का होता है. और इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किसी भी संस्कृति का खेल खेल रहे हैं. बस आपको किसी चीज का आनंद आए यही उसका महत्व है.

और इसी वजह से वास्तव में हमें खेल दिवस यह एक ऐसा मौका देता है जिस मौके पर हम साथ मिलकर कोई अच्छा सा गेम खेल सकते हैं. तो अब देर किस बात की दोस्तों अपने परिवार, रिश्तेदारों फ्रेंड्स को साथ बुलाइए और अपना पसंदीदा अच्छा सा खेल खेलना शुरू कर दीजिए.

games day ka itihas

खेल दिवस पर हम इस दिवस के खेल इतिहास के बारे में जानेंगे. आपको पता होगा कि ब्रिटिश गेम प्रोडक्शन और रिटेल कंपनी इनकी तरफ से गेम का वर्कशॉप बनाया गया था. और साथ ही बाद में इसमें वॉरहेम जैसे काल्पनिक ब्रह्मांड की खेल भी खेले गए थे. और आपको यह बात हम बताना चाहेंगे कि इसको 1975 में अचानक से बनाया गया था.

जब 20 दिसंबर 1975 में लंदन में एक बड़ा मशहूर कार्यक्रम सबसे पहले होने वाला था. और इसमें ब्रिटेन में कई सारे समुदायों से बहुत सारे लोग इसमें शामिल होने वाले थे. और इसी वजह से इसमें अचानक से गेमिंग के दृश्य निर्माण किए गए. और साथ ही इस सम्मेलन की शायरी अमेरिका में काफी लोकप्रिय हुई थी.

games day kaise manaye

खेल दिवस पर हम जाने कि इसे किस तरह से हम बना सकते हैं. आपको यह तो जरूर ज्ञात होगा कि आपने बहुत साल पहले अपने दोस्तों के साथ एक मस्ती भरी शाम गुजारी होगी. और साथ ही अगर अब आपके घर पर बच्चे नहीं होंगे तो शायद आपने परिवार में भी कोई खेल नहीं खेला होगा.

और अगर वास्तव में ऐसा है तो इसका मतलब यही है कि आज बस आप के लिए खेलने का एक अच्छा और सही अवसर मिला है. और यह बात आपको बड़ी पसंद करेगी कि आज के दिन आपको मनचाहे खेल खेलने का एक ऐसा मौका मिल रहा है जिसे आप को जरूर गवाना नहीं चाहिए. बस आज के दिन के लिए आपको एक बात दूर रखनी होगी और वह है आपका फेसबुक ट्विटर या फिर सोशल मीडिया अकाउंट.

ध्यान रहे कि आप कोई भी ऑनलाइन भी नहीं खेलेंगे. आप सीधा अपने खेल के मैदान पर जाकर अपने दोस्त या फिर रिश्तेदारों के साथ कोई अच्छा सा खेल खेलें. इसके लिए आप पर्याप्त समय ले सकते हैं ताकि आपको महसूस हो कि आपने अपना मन पसंदीदा खेल खेला है. और साथ ही इसके जो आप तस्वीरें लेंगे, उसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट से #gamesday को टैग करते हुए भी अपने बाकी दोस्तों के साथ इसे साझा कर सकते हैं.

हमारा यह खेल दिवस पर आधारित लेख आपको अच्छा लगा हो और आपने कोई पसंदीदा खेल खेलने का निर्णय कर लिया हो, तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करते हुए इसे बताना ना भुलिएगा.


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Games Day

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *