Press "Enter" to skip to content

२२ अप्रैल: पृथ्वी दिवस (Earth Day) दिनविशेष

मानव की लगातार होती हुई अलग-अलग गतिविधियों के कारण आज पृथ्वी मुसीबत में है. ओजोन वायु की परत का क्षरण भी पारिस्थितिक तंत्र को नष्ट कर रहा है. लोग भोजन और पानी के बिना भूखे प्यासे मर रहे हैं. इसके अतिरिक्त लुप्तप्राय प्रजातियां औसत दर से भी अधिक तेजी से मर रही हैं. हमें यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि, पृथ्वी दिवस हमारी पृथ्वी की रक्षा और मदद करने वाली पहली वैश्विक पहलों में से एक है, जो वैश्विक स्तर पर बदलाव के लिए प्रयास करता है. इस दिवस का उद्देश्य लोगों को यह विश्वास दिलाना है कि, इस ग्रह के संरक्षण में सभी लोगों के कार्य महत्वपूर्ण है.

Earth Day का इतिहास

दुनिया के सबसे बड़े पर्यावरण आंदोलन और सबसे लोकप्रिय छुट्टियों में से एक के रूप में, पृथ्वी दिवस मनाना इतिहास में निहित है. अमेरिका की पूर्व सीनेटर संस्थापक, गैलार्ड नेल्सन ने कैलिफोर्निया के सांता बारबरा में 1969 के तेल रिसाव को देखने के बाद इस दिवस को मनाने के बारे में सोचा था. युद्ध विरोधी आंदोलन से प्रेरित हुए नेल्सन का मानना था कि यह जरूरी है की ऊर्जा के उपयोग से वायु और जल प्रदूषण के बारे में चिंताओं के लिए स्थानांतरित किया जाए.

उनके प्रयासों से पर्यावरण संरक्षण को राजनीतिक एजेंडे पर रखने में मदद मिली और इस प्रकार परिवर्तन की शुरुआत हुई. लगातार काम करने के बाद नेल्सन ने राष्ट्रीय मीडिया में अपने संदेश को फैलाना शुरू किया और संयुक्त राज्य भर में घटनाओं को बढ़ावा दिया.

1970 में 20 मिलियन अमेरिकी लोगों ने सड़कों पर उतर कर उनको अनुमोदन दिया.
नेल्सन ने इस कारण समर्थन में प्रदर्शन रैलियों का गठन किया. जो समूह को पहले भी पर्यावरणीय कारकों के खिलाफ अलग-अलग रैली करते हैं. उन्हें भी यह एहसास हुआ कि, उनके साथ आना चाहिए.

यह दिन ही पहला पृथ्वी दिवस संयुक्त राज्य अमेरिका और पर्यावरण संरक्षण एजेंसी के निर्माण का कारण बना. इसी दिन स्वच्छ वायु, स्वच्छ जल और लुप्तप्राय प्रजाति अधिनियम का प्रस्ताव पारित किया गया. पृथ्वी दिवस 1990 तक विश्व स्तर पर इतना फैल गया कि 145 देशों के 200 मिलियन लोगों तक इसका संदेश फैल गया था.


2020 के विश्व भर में मनाए जाने वाले पृथ्वी दिवस की 50 वीं वर्षगांठ को चिन्हित किया जाएगा. इसका उद्देश्य नीति और शांतिपूर्ण उपयोग के माध्यम से पर्यावरण के परिवर्तन को बढ़ावा देना है. इसमें पर्यावरण की देखभाल के महत्व को प्रदर्शित करने वाली घटनाओं का विवरण बताया जाता है.

पृथ्वी दिवस कैसे मनाएं

पृथ्वी दिवस पर हमें जितना हो सके, कम ईंधन का उपयोग करना चाहिए. साथ ही पानी का संरक्षण करने के लिए उसकी अधिक रीसाइकलिंग करते हुए संवैधानिक परिवर्तन करना चाहिए.

आप इस दिन अपने आसपास कुछ अन्य कार्यक्रम ढूंढ सकते हैं और पर्यावरण के बारे में अपने कार्यों को लोगों में बता कर पृथ्वी दिवस मना सकते हैं. साथ ही इस दिन को मनाने के लिए आप किसी एजुकेटर नेटवर्क को धन को दान भी कर सकते हैं.
इसी प्रकार पृथ्वी दिवस के बारे में आप सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचार करें और अपने दोस्तों एवं परिवारजनों के साथ सब को बताएं कि पृथ्वी की रक्षा आपके लिए किस तरह आवश्यक है.


हमारा यह दिनविशेष पर आधारित लेख पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद! हम आपके लिए रोज ऐसही अच्छे लेख लेकर आते है. अगर आपको यह लेख पसंद आता है तो फेसबुक और व्हाट्सएप पर अपने दोस्तों को इसे फॉरवर्ड करना ना भूले. साथ ही हमारी वेबसाइट को रोजाना भेंट दे.

इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

© संतोष साळवे
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया

Comments are closed.