Press "Enter" to skip to content

तेजी से पढ़ने के लिए 10 दिन: Book Summary – Part 2

दोस्तों,  आज हम तेजी से पढ़ने के लिए 10 दिन किताब के सारांश का दूसरा भाग देखने जा रहे हैं. पहला भाग पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

एक और अधिक कुशल पाठक बनना, कुछ बुरी आदतों को दूर करने जितना ही आसान है:

यदि आप किसी काम को बार-बार करते हैं तो आप इसे अपनी आदत बना सकते हैं और यही पढ़ने के साथ भी होता है. आइए पढ़ाई की कुछ बुरी आदतें और उन्हें कैसे ठीक करना है यह देखें. सर्वसाधारण पढ़ाई की एक बुरी आदत यह होती है कि मूर्छित अवस्था में दिन सपने देखना.

जब भी हम पढ़ते हैं तब अन्य हजारों विषयों पर हमारा मन भटकता रहता है, जिसका वास्तव में हमारी पढ़ाई के विषय में कुछ लेना देना नहीं होता. सक्रिय तरीके से अपने सोचने में बदलाव करें, यानी कि हम ऐसे सोचे कि उस जानकारी को सही करें और जिससे हम अपना अनुभव बना सके. इस तरह हम अलग-अलग तरीके से ऐसी जानकारी इकट्ठा कर सकते हैं जो हम पहले से जानते हैं और साथ ही नई जानकारी भी ले सकते हैं.

आप शॉर्टकट लेकर तेजी से पढ़ सकते हैं:

तेजी से पढ़ने के लिए आपके मन में इस लक्ष्य का सटीक होना बहुत जरूरी है की आपको कौन सी किताब पढ़नी है.अपने मन से दो सवालों के जवाब जरूर पूछें: 

1.  आपको क्या पढ़ना है?
2.  आप जो पढ़ रहे है, उसे क्यों पढ़ना चाहते है?

इन सवालों के अगर आपके पास कोई अच्छे जवाब नहीं हैं, तो उस सामग्री को आप ना ही पढ़े, तो बेहतर होगा. लेखक इस किताब में यही बात कह रहे हैं कि फालतू की चीजें पढ़ना बंद करें.

किसी भी किताब को पढ़ने से पहले जांच ले कि किताब का कौन सा भाग पढ़ने लायक और महत्वपूर्ण है. साथ ही किताब का परिचय आपको क्या बता रहा है इस पर विचार करें. इस तरह जांच करने से आप सही जानकारी को कम समय में पढ़ कर समझ सकेंगे.

अपनी पढ़ने की गति को बढ़ाने के लिए सिर्फ कीवर्डस पढ़ें: 

हम में से अधिकांश लोगों ने बचपन में स्कूल में ही पढ़ने का अभ्यास किया हुआ है, इसलिए हमारी पढ़ने की तकनीक काफी पुरानी होती है. इस मुद्दे में हम पढ़ने की नई तकनीक के बारे में विचार करेंगे.

पहली तकनीक यह बताती है कि केवल महत्वपूर्ण शब्दों पर ही अपना ध्यान केंद्रित करना चाहिए और बाकी को छोड़ देना चाहिए. जब हम पढ़ते हैं तो हमारी आंखें घूमती रहती है और एक सटीक प्रवाह तैयार करती है. बेहतर प्रवाह में जाकर पढ़ना, कीवर्ड खोजने को आसान कर देता है. 

पढ़ते समय हमें ज्ञात हो जाता है कि पूरे वाक्य में जो शब्द महत्वपूर्ण होते हैं, आमतौर पर वे तीन अक्षरों से ज्यादा लंबे होते हैं और उनका अर्थ भी उस वाक्यांश में होता है. इसका अर्थ है कि पूरे वाक्य का मतलब समझने के लिए आपको बस उन महत्वपूर्ण शब्दों को समझना होता है.

जल्द पढ़ने का एक और तरीका है कि अलग-अलग शब्दों के बजाय उस वाक्यांश में आए विचारों के समूहों पर अपनी आंखें टिकाए अर्थात वाक्य को पढ़ते समय पूरा पढ़ने के बजाय उस वाक्य के जो विचार है  उस विचार को ही ध्यान में ले.जल्द पढ़ने के इन सब तरीकों में आप अपनी आंखों का सबसे ज्यादा उपयोग करते हैं तो हो सकता है कि आपकी आंखें थकान महसूस करें.

लेकिन इसके लिए आप ज्यादा परेशान ना हो. किसी लंबे वाक्यांश को पढ़ने के लिए जितनी बार आप अपनी आंखों पर जोर देते हैं, उतनी ही आपकी आंखों के स्नायु में तनाव महसूस होता है. पढ़ने की वजह से आपको जितना अपनी आंखों में दर्द या तनाव महसूस होगा, उतने ही आप बेहतर पाठक बनते जाएंगे और उतना ही जल्द आप पढ़ पाएंगे.

आशा है आपको ‘तेजी से पढ़ने के लिए 10 दिन’ इस लेख का दूसरा भाग बहुत पसंद आया होगा. इस लेख का अगला भाग प्रसारित होने तक आप हमारे साथ जुड़े रहें और अपने दोस्तों के साथ इस लेख को जरूर शेयर करें.

✍🏼 संतोष साळवे
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share
Learn more, spend less. Get top courses for as little as ₹ 455