Press "Enter" to skip to content

तेजी से पढ़ने (Reading) के लिए 10 दिन: Summary – Part 1

कैसे है दोस्तों,  आज हम एक किताब का सारांश देखने जा रहे हैं. ’10 Days to Faster Reading’ अर्थात ‘तेजी से पढ़ने के लिए 10 दिन’ इस किताब की थीम है. ‘Understand and Remember Everything You Read’. 

यह किताब आपको Must Read Books अर्थात पढ़नी ही चाहिए. ऐसे किताबों के बढ़ते ढेर के साथ सौदा करने में मदद करती है. यह आपकी माइंडसेट और बुरी आदतों को तोड़कर प्रभावशाली तरीके से पढ़ना सिखाती है. जिसकी मदद से आप तेजी से पढ़ पाएंगे. पहले से कभी अधिक ज्ञान जुटा पाएंगे.

इस किताब के लेखक है एबी मार्क्स बीएल. जो एक कारपोरेट ट्रेनिंग ऑर्गनाइजेशन ‘कॉरपोरेट एजुकेटर’ के संस्थापक है. और ‘Rev It Up Reading‘ प्रोग्राम के निर्माता है. जो लोगों को स्पीड रीडिंग कौशल में मदद करते हैं. तो आइए दोस्तों ‘तेजी से पढ़ने (Reading) के लिए 10 दिन’ किताब के सारांश को देखते हैं.

तेजी से पढ़ें (Reading) और उसे याद रखें:

दोस्तों आपको एक तेज और अच्छा पाठक बनने के लिए किसी जिनी या किसी जादू की जरूरत नहीं है. आपको केवल आपकी कुछ बुरी आदतों को छोड़कर कुछ नई आदतें और तकनीकों के अभ्यास की जरूरत है. इस किताब के अनुसार, हम केवल 10 दिनों के अंदर तेज पाठक (Reader) बन सकते हैं. अर्थात किताब तेज तरीके से पढ़ना (Reading) सीख सकते हैं.

अपने रोजमर्रा आने वाले समाचार पत्रों के साथ या किसी भी अच्छी वेबसाइट जिसपे अच्छे आर्टिकल्स होते है, उससे भी आप इस बात का अभ्यास शुरू कर सकते हैं. तो दोस्तों, तैयार हो जाइए, अब आप जो भी पढ़ेंगे, उसे हमेशा याद करते हुए, एक तेज पाठक बनने की राह पर निकल पड़िए!

जब लोग पढ़ते (Reading करते) हैं तो खुद पर ज्यादा जोर डालते हैं:

दोस्तों हम देखते हैं कि कई बार हमारे पास पढ़ने के लिए बहुत सारी किताबें या सामग्री होती है. लेकिन इसे पढ़ने (Reading) के लिए समय कम होता है, या होता ही नहीं. लेकिन समय कम होना या ना होना यह आपकी समस्या नहीं है, बल्कि हमारे दिमाग के अंदर पढ़ने को लेकर कुछ गलतफहमियां हैं.

सबसे पहले आपको यह समझना है कि वास्तव में हमें किसी किताब में या समाचार पत्र में लिखी सारी बातें पढ़ने की जरूरत नहीं होती. वास्तव में आपकी आंखों के सामने आने वाली सभी चीजों को पढ़ना नामुमकिन है. इसके बजाय आपको महत्वपूर्ण बातों को चुनने की और सिर्फ उन्हें ही पढ़ने की आदत बनानी होगी.

दूसरी बात यह है कि, जरूरी नहीं है जो कुछ भी पढ़ा जाए उन सभी बातों को याद रखना अति आवश्यक है. हम स्कूल में ही इस गलतफहमी को हमारे दिमाग में इस कदर बिठा लेते हैं कि किताब में दी हुई सभी बातों को याद रखने के तनाव को हम हमेशा महसूस करते हैं.

याद रखने के लिए क्या करना चाहिए?

क्या आपको पता है कि कुछ भी पड़ी हुई सामग्री आपके दिमाग के शॉर्ट टर्म मेमोरी में जमा होती है और केवल कुछ दिनों के बाद ही हम इसे भूल जाते हैं? लेकिन यदि आप भविष्य में भी इस जानकारी को याद रखना चाहते हैं, तो आपको एक आसान लिखित प्रणाली बनानी पड़ेगी. जैसे कि कुछ महत्वपूर्ण जानकारी को आप अपने कंप्यूटर, मोबाइल या कागज पर लिखकर रख सकते हैं या फिर इसकी नोट्स भी बना कर रख सकते हैं और इस सामग्री को एक जगह पर फाइल कर दें.

इस तरह आप आसानी से जानकारी को दोबारा प्राप्त कर सकते हैं. इन सब बातों से आप पर याद रखने का तनाव भी नहीं रहेगा. अंत में यह ध्यान रखें कि काम के वक्त पढ़ने से आपका वक्त जाया नहीं जाएगा. अपितु यह बात आपको व्यवसाय की नई कल्पनाएं और अपने ज्ञान को अद्यतन करने में बहुत मदद करती है.

आशा है आपको ‘तेजी से पढ़ने (Reading) के लिए 10 दिन’ इस लेख का पहला भाग बहुत पसंद आया होगा. इस लेख का अगला भाग प्रसारित होने तक आप हमारे साथ जुड़े रहें और अपने दोस्तों के साथ इस लेख को जरूर शेयर 👇🏼 करें.

✍🏼 संतोष साळवे
एस सॉफ्ट ग्रुप इंडिया


इस तरह के विविध लेखों के अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज ssoftgroup लाइक करे.


WhatsApp पर दैनिक अपडेट मिलने के लिए यहाँ Join WhatsApp पर क्लिक करे

Worth-to-Share

Comments are closed.